"वसुदेव" के अवतरणों में अंतर

44 बैट्स् नीकाले गए ,  1 वर्ष पहले
J ansari द्वारा सम्पादित संस्करण 3848627 पर पूर्ववत किया: Rv to the last best version. (ट्विंकल)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
(J ansari द्वारा सम्पादित संस्करण 3848627 पर पूर्ववत किया: Rv to the last best version. (ट्विंकल))
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
'''वसुदेव''' यदुवंशी शूर तथा मारिषा के पुत्र, कृष्ण के पिता, कुंती के भाई और मथुरा के राजा उग्रसेन के मंत्री थे। वसुदेव यदुवंश (rajput) से थे इनका विवाह देवकी (कंस कीदेवक बहन)औऱअथवा आहुक की सात कन्याओं से हुआ था जिनमें [[देवकी]] सर्वप्रमुख थी। वसुदेव के नाम पर ही [[कृष्ण]] को 'वासुदेव' (अर्थात् 'वसुदेव के पुत्र') कहते हैं। वसुदेव के जन्म के समय देवताओं ने आनक और दुंदुभि बजाई थी जिससे इनका एक नाम 'आनकदुंदुभि' भी पड़ा। वसुदेव ने स्यमंतपंचक क्षेत्र में [[अश्वमेध यज्ञ]] किया था। कृष्ण की मृत्यु से उद्विग्न होकर इन्होंने प्रभासक्षेत्र में देहत्याग किया।
 
[[श्रेणी:महाभारत के पात्र]]
1,811

सम्पादन