"बिश्नोई" के अवतरणों में अंतर

626 बैट्स् जोड़े गए ,  3 माह पहले
सम्पादन सारांश रहित
छो ("बिश्नोई" सुरक्षित किया गया।: जाति/पंथ संबंधित पृष्ठ/ अधिक उत्पात/ संभावित उत्पात ([संपादन=केवल स्वतः स्थापित सदस्यों को अनुमति दें] (हमेशा) [स्थानांतरण=केवल स्वतः स्थापित सदस्यों को अनुमति दें] (हमेशा)))
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन उन्नत मोबाइल सम्पादन
[[File:बिश्नोई मन्दिर मुक्तिधाम मुकाम-नोखा, बिकानेर, राजस्थान 2014-02-08 23-08.jpeg|thumb|250px|राजस्थान के बीकानेर जिले के नोखा में बिश्नोई पंथ का एक मंदिर, मुक्तिधाम।]]
'''बिश्नोई''' अथवा '''विश्नोई''' उत्तरी भारत में एक प्रकृति प्रेमी पंथ है जिसके अनुयाई मुख्यतः [[राजस्थान]] राज्य और समीपवर्ती राज्यों पंजाब तथा हरियाणा में हैं। इस पंथ के संस्थापक [[गुरु जम्भेश्वर|जाम्भोजी महाराज]] है। बिश्नोई पंथ में दीक्षित होने वाले अधिकांश जाट जाति के व्यक्ति थे इसलिए इनको कुछ जगह बिश्नोई जाट भी बोला जाता है। जाम्भोजी महाराज द्वारा बताये 29 नियमों का पालन करने वाला बिश्नोई है। यानी बीस+नौ=बिश्नोई। बिश्नोई शुध्द [[शाकाहार|शाकाहारी]] हैं।
{{Infobox caste
| caste_name = बिश्नोई
| caste_name_in_local =
| region = [[ पश्चिमी भारत]]
| state = [[राजस्थान]]
| populated_states =
| languages = {{unbulleted list|[[हिन्दी]]|[[पंजाबी]]|[[मारवाड़ी]] |[[हरयाणवी]]}}
| religions = [[हिन्दू]]
| image = [[File:बिश्नोई मन्दिर मुक्तिधाम मुकाम-नोखा, बिकानेर, राजस्थान 2014-02-08 23-08.jpeg|thumb|250px|राजस्थान के बीकानेर जिले के नोखा में बिश्नोई पंथ का एक मंदिर, मुक्तिधाम।मुक्तिधाम मुकाम मंदिर।]]
| caption =
| varna = [[वैश्य]]
| guru = [[गुरु जम्भेश्वर]]
| country = {{flag|India}}
| mantra = "''विष्णु-विष्णु तू भण रे प्राणी''"
}}
 
बिश्नोई लोगों के एक पंथ का हिस्सा माना जाता है न कि किसी जाति का, और कई बार इस पंथ में दीक्षित होने के बाद भी अपनी मूल जाति की परंपराओं से जुड़ाव देखने को मिलता है।<ref>{{cite book|title=A Glossary of the Tribes and Castes of the Punjab and North-West Frontier Province: A.-K|url=https://books.google.com/books?id=LPsvytmN3mUC&pg=PA114|year=1997|publisher=Atlantic Publishers & Dist|isbn=978-81-85297-69-9|pages=114–}}</ref>
290

सम्पादन