"विकिपीडिया:चौपाल" के अवतरणों में अंतर

काफी पुराने संवादों का अध्ययन कर के यह लिख रही हूँ-
* आशीष जी का विचार है कि सदस्य logic ने "अभी तक शायद वो सीमा उन्होंने लांघी नहीं है, अतएव उन्हें प्रतिबंधित करना, वो भी बिना किसी भी चेतावनी के एकदम गलत होगा। शायद ये एक और वी.के.वोरा मामले को जन्म दे।"
: शायद आप याद नहीं कर सकते है कि टैक्समैन ने वी के वोहरा को कैसे नियंत्रिकनियंत्रित किया था। हो सकता है कि आप टैक्समैन वाली नियंत्रपद्धतिनियंत्रण-पद्धति न जानते हों लेकिन आप सीख सकते हैं या उनसे निवेदन कर सकते हैं।
* महिलाओं के संबंध में एक दूसरा विचार है कि "विकिया पर प्रतिबंधित कर भी दें तो समाज में मौजूद यह सोच मिट नहीं जाएगी।" ठीक बात है समाज (केवल पुरुष) तो नहीं बदलेगा पर महिलाएँ तो बदल चुकी है। इसलिए विकिपीडिया पर अब केवल वही महिलाएँ काम करेंगी जो गालियाँ खा-खाकर काम करने की आदी हैं। कोई भी सम्मानित महिला अब इस विकि पर काम नहीं करेगी।--[[सदस्य:सुरुचि|सुरुचि]] ०४:३९, ९ जनवरी २०१० (UTC)
 
854

सम्पादन