बहुत बड़ी मात्रा में मानकीकृत उत्पादों का निर्माण विशालोत्पादन (Mass production) कहलाता है। इसे 'वृहत् उत्पादन' और 'पुंज उत्पादन' भी कहते हैं। 1920 के दशक की अमेरिका की एक बड़ी खासियत थी बृहत उत्पादन (mass production) का चलन।

सन् १९४४ में बेल्ल वायुयान कॉरपोरेशन का असेम्बली प्लान्ट

वृहद उत्पादन की विशेषताएँसंपादित करें

  • वस्तुएँ भारी मात्रा में या भारी संख्या में उत्पन्न की जाती हैं।
  • प्रति इकाई वस्तु का मूल्य कम होता है।
  • अधिक मात्रा में पूँजी (संयंत्र तथा मशीन) की आवश्यकता होती है।
  • कार्य करने वाले अत्यन्त संगठिक रूप में कार्य करते हैं (प्रायः असेम्बली लाइन के रूप में)
  • श्रम का विभाजन

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें