शपथ (oath) किसी तथ्य या प्रतिज्ञा की ऐसी अभिव्यक्ति होती है जिसके सत्य होने का आश्वासन उसमें किसी पवित्र चीज़ का उल्लेख के आधार पर हो। उदाहरण के लिए "मैं ईश्वर की सौगंध लेता हूँ कि अपना दायित्व सच्चाई से निभाऊँगा" एक प्रकार की शपथ है।[1][2]

भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति ए॰ पी॰ जे॰ अब्दुल कलाम एक नए सांसद (प्रहलाद पटेल) को शपथ दिलवाते हुए

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Metsudah Chumash and Rashi, KTAV Publishing House, 1991. page 88
  2. Bailey, Cyril (1907). The Religion of Ancient Rome. London: Archibald Constable & Co. Ltd. p. 7. Retrieved 2015-08-18.