मुख्य मेनू खोलें

शाह जहाँ

मुगल शासक जिसे उसके ही पुत्र औरंगजेब ने बन्दी बना लिया जहाँ तड़प-तड़प के उसकी मौत हो गयी।
(शाहजहां से अनुप्रेषित)


शाह जहाँ (उर्दू: شاہجہان)पांचवे मुग़ल शहंशाह था। शाह जहाँ अपनी न्यायप्रियता और वैभवविलास के कारण अपने काल में बड़े लोकप्रिय रहे। किन्तु इतिहास में उनका नाम केवल इस कारण नहीं लिया जाता। शाहजहाँ का नाम एक ऐसे आशिक के तौर पर लिया जाता है जिसने अपनी बेग़म मुमताज़ बेगम के लिये विश्व की सबसे ख़ूबसूरत इमारत ताज महल बनाने का यत्न किया।

शाह जहाँ the great
Portrait of the emperor Shajahan, enthroned..jpg
सम्राट शाह जहाँ का चित्र
Flag of the Mughal Empire (triangular).svg ५वें मुग़ल सम्राट
शासनावधि१९ जनवरी 1254 ३१ जुलाई १६५८ (३० साल १९३ दिन)
राज्याभिषेक१४ फ़रवरी १६२८, dilli
पूर्ववर्तीजहाँगीर
उत्तरवर्तीऔरंग़ज़ेब
जन्मखुर्रम
५ जनवरी १५९२
लाहौर,पाकिस्तान
निधन२२ जनवरी १६६६ (आयु ६४)
आगरा किला, आगरा,भारत
समाधि
जीवनसंगीकन्दाहरी बेग़म
अकबराबादी महल
मुमताज महल
हसीना बेगम
मुति बेगम
कुदसियाँ बेगम
फतेहपुरी महल
सरहिंदी बेगम
संतानपुरहुनार बेगम
जहांआरा बेगम
दारा शिकोह
शाह शुजा
रोशनारा बेगम
औरंग़ज़ेब
मुराद बख्श
गौहरा बेगम
पूरा नाम
अल् आजाद अबुल मुजफ्फर शाहब उद-दीन मोहम्मद खुर्रम
घरानातैमूर का कुल
पिताजहाँगीर
माताजगत गोसाईं (बिलकीस मकानी)
धर्मइस्लाम

सम्राट जहाँगीर के मौत के बाद, छोटी उम्र में ही उन्हें मुगल सिंहासन के उत्तराधिकारी के रूप में चुन लिया गया था। 1627 में अपने पिता की मृत्यु होने के बाद वह गद्दी पर बैठे। उनके शासनकाल को मुग़ल शासन का स्वर्ण युग और भारतीय सभ्यता का सबसे समृद्ध काल बुलाया गया है।

औरंगजेब और दाराशिकोह के बीच धरमत का युद्ध हुआ।।

धरमत का युद्ध 15 अप्रैल, 1658 ई. को लड़ा गया था।

आगरा मे बनी जामा मस्जिद का निर्माण जहांआरा (शाहजहां की पुत्री) ने करवाया।।

मुग़ल सम्राटों का कालक्रमसंपादित करें

बहादुर शाह द्वितीयअकबर शाह द्वितीयअली गौहरमुही-उल-मिल्लतअज़ीज़ुद्दीनअहमद शाह बहादुररोशन अख्तर बहादुररफी उद-दौलतरफी उल-दर्जतफर्रुख्शियारजहांदार शाहबहादुर शाह प्रथमऔरंगज़ेबजहांगीरअकबरहुमायूँइस्लाम शाह सूरीशेर शाह सूरीहुमायूँबाबर