विकिपीडिया पर ‘जोहार’ उस समूह का प्रतिनिधित्व करता है जिसमें राजस्थान के आदिवासी और मूलवासी (सदान) साहित्यकार, लेखक, भाषाविद, इतिहासकार, कलाकार, सस्कृतिकर्मी और बुद्धिजीवी शामिल हैं। जोहार से जुड़े लोग आत्मप्रचार में यकीन नहीं करते। हम विकिपीडिया के माध्यम से दुनिया तक आदिवासी-मूलवासी अस्मिता, संस्कृति, दर्शन, धार्मिक विश्वास, ज्ञान परंपरा, वाचिक और लिखित साहित्य तथा कला-कौशल को पहुंचाने के लिए संबद्ध हुए हैं और योगदान कर रहे हैं। इस नये माध्यम में भी आदिवासियों की उपस्थिति बहुत कम है और जो है, वह भी द्वितीयक स्रोत के आधार पर। दुनिया अभी भी आदिवासियों की भाषा, संस्कृति और ज्ञान परंपरा से अनभिज्ञ है। हमारा आग्रह है, इस कार्य में हमें विश्व बिरादरी सहयोग करे। जौहार मीना समाज की बहादुरी का प्रतीक है