सर्गी मिखायलोविच ब्रिन (रूसी : Серге́й Миха́йлович Брин) जन्म - 21 अगस्त 1973, एक रूसी अमेरिकी कंप्यूटर वैज्ञानिक, सॉफ्टवेयर डेवलपर और उद्यमी हैं जिन्हें लैरीपेज के साथ गूगल, इंक. के सह-संस्थापक के रूप में अधिक जाना जाता है, जो अपने खोज इंजन और ऑनलाइन विज्ञापन प्रौद्योगिकी के आधार पर विश्व की सबसे बड़ी इंटरनेट कंपनी Empty citation (मदद) है।[5]

Sergey Brin
Sergey Brin cropped.jpg
जन्म Sergey Mikhaylovich Brin
21 अगस्त 1973 (1973-08-21) (आयु 48)
मास्को, आर॰ एस॰ एफ़॰ एस॰ आर॰, सोवियत संघ
आवास लोस आल्टोस हिल्ज़, कैलिफ़ोर्निया
राष्ट्रीयता अमेरिकी
नागरिकता अमेरिकी
शिक्षा Univ. of Maryland (B.S., 1993)
Stanford University (M.S., 1995)
शिक्षा प्राप्त की University of Maryland
Stanford University
व्यवसाय Computer scientist, technology innovator, entrepreneur
वेतन USD free of wage (2008)[1][2]
कुल मूल्य IncreaseUS$15 billion (2010)[3]
प्रसिद्धि कारण Co-founder of गूगल इंक॰.
जीवनसाथी Anne Wojcicki[4]
वेबसाइट
stanford.edu/~sergey

ब्रिन छह साल की उम्र में रूस से संयुक्त राज्य अमेरिका में आकर बस गए। उन्होंने मैरीलैंड विश्वविद्यालय से पूर्वस्नातक की डिग्री प्राप्त की, उन्होंने अपने पिता और दादा जी के नक्शेकदम पर चलते हुए गणित का अध्ययन किया और कंप्यूटर विज्ञान में दोहरी डिग्री हासिल की. स्नातक स्तर की पढ़ाई के बाद पीएच.डी की पढ़ाई के लिए वे स्टैनफोर्ड चले गए। उनकी पीएच.डी का विषय कंप्यूटर विज्ञान था। वहां उनकी मुलाकात लैरी पेज से हुई और बाद में वे दोस्त बन गए। उन्होंने अपने कमरे को सस्ते कंप्यूटरों से भर दिया और बेहतर खोज इंजन के निर्माण के लिए ब्रिन की डाटा माइनिंग प्रणाली को लागू किया। यह प्रोग्राम स्टैनफोर्ड में काफी लोकप्रिय हो गया और उन्होंने अपनी पीएचडी को स्थगित कर दिया और एक किराए के गैरेज में गूगल की शुरुआत की.

द इकोनोमिस्ट ने ब्रिन को एक "एनलाइटेनमेंट मैन" के रूप में संदर्भित किया और ऐसा व्यक्ति बताया जो मानता है कि "ज्ञान हमेशा अच्छा होता है और निश्चित रूप से अज्ञानता से बेहतर होता है", एक ऐसा दर्शन जो गूगल द्वारा दुनिया भर की सूचनाओं को "सार्वभौमिक रूप से सुलभ कराने और उपयोगी" बनाने के लक्ष्य[6] और "दुष्ट ना बनें" में निहित है।

प्रारंभिक जीवन और शिक्षासंपादित करें

सर्गी ब्रिन का जन्म मॉस्को में एक यहूदी परिवार में हुआ, इनके माता-पिता का नाम युजेनिया ब्रिन और माइकल ब्रिन है, दोनों ने ही मॉस्को स्टेट यूनिवर्सिटी से स्नातक की डिग्री हासिल की थी। उनके पिता मैरीलैंड विश्वविद्यालय में गणित के एक प्रोफेसर हैं और उनकी माता नासा के गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर पर एक अनुसंधान वैज्ञानिक हैं।[7][8]

रूस में बचपनसंपादित करें

1979 में, जब ब्रिन छह वर्ष के थे, उनका परिवार संयुक्त राज्य अमेरिका में बसने पर मजबूर हुआ। द गूगल स्टोरी के लेखक मार्क मल्सीड के साथ एक साक्षात्कार में,[9] सर्गी के पिता बताते हैं कि कैसे उन्हें "कॉलेज से पहले ही खगोल विज्ञानी बनने के उनके सपने का परित्याग करने के लिए मजबूर किया गया।" हालांकि, सोवियत संघ में सामिवाद विरोधी कोई आधिकारिक नीति मौजूद नहीं है, ब्रिन ने दावा किया कि कम्युनिस्ट पार्टी ने यहूदियों को विश्वविद्यालयों में प्रवेश से रोककर उन्हें उच्च पदों से वंचित किया; "विशेष कर के यहूदियों को भौतिकी विभाग से बाहर रखा गया था।.." इसलिए माइकल ब्रिन ने अपने विषय को बदल कर गणित किया जिसमें उन्होंने सीधे A's प्राप्त किया। उन्होंने कहा, "यहां तक कि स्नातक स्कूल के लिए कोई भी मुझ विचार नहीं करता था क्योंकि मैं यहूदी था।"[10] ब्रिन परिवार सेंट्रल मॉस्को में 30 वर्ग मीटर (350 वर्ग फुट) के तीन-कमरे वाले घर में रहता था, जिसमें सर्गी की दादी भी रहती थी।[10] सर्गी ने मल्सीड से कहा, "मैं एक लंबे समय से जानता था कि मेरे पिता उस क्षेत्र में अपना कैरियर नहीं बना सके जिसमें वे चाहते थे", लेकिन जब वे अमेरिका में बस गए तो काफी बाद में सर्गी ने उन वर्षों के विवरण की जानकारी हासिल की. उन्होंने सीखा कि कैसे, 1977 में अपने पिता के वारसॉ, पोलैंड, में आयोजित गणित सम्मेलन से लौटेने के बाद, उन्होंने घोषणा की कि परिवार के लिए उत्प्रवास करने का यही सही समय है। उन्होंने अपनी पत्नी और मां से कहा "हम यहां और नहीं रह सकते." सम्मेलन में, वे संयुक्त राज्य, फ्रांस, इंग्लैंड और जर्मनी के साथियों के साथ घुलने-मिलने में सक्षम थे और पाया कि पश्चिम में उनके बौद्धिक भाई राक्षस नहीं थे। उन्होंने कहा, "मैं परिवार का एकमात्र ऐसा सदस्य था जिसने फैसला किया कि वहां से जाना वास्तव में काफी महत्वपूर्ण था।.."[10]

सर्गी की मां को मॉस्को में अपने घर को छोड़ने की रूचि कम थी, जहां उन्होंने अपना पूरा जीवन बिताया था। मल्सीड लिखते हैं, "गेनिया के लिए, निर्णय अंततः सर्गी के लिए था। जबकि उसके पति मानते हैं वह अपने भविष्य के बारे में उतना ही सोचते हैं जितना अपने बेटे के बारे में सोचते हैं, सर्गी के बारे में उनकी स्थिति 80/20 थी।" वे औपचारिक रूप से सितंबर 1978 में निकासी वीसा के लिए आवेदन किया और परिणामस्वरूप उनके पिता को "तुरंत नौकरी से निकाल दिया गया". संबंधित कारणों के लिए, उनकी मां को भी अपनी नौकरी छोड़नी पड़ी. अगले आठ महीने के लिए, इंतज़ार करते हुए बिना किसी स्थिर आय के उन्हें अस्थाई नौकरी करनी पड़ी, लेकिन उन्हें डर था कि उनके अनुरोध को अस्वीकार कर दिया जाएगा क्योंकि ऐसा कई रेफ्युसेनिक्स (शरणार्थी) के लिए था। इस समय के दौरान इनके माता-पिता ने इनकी ओर ध्यान देने की जिम्मेदारी को समझा और उनके पिता ने स्वयं कंप्यूटर प्रोग्रामिंग सिखाया. मई 1979 में, उन्हें आधिकारिक निकासी वीजा हासिल हो गया और देश छोड़ने की अनुमति मिल गई।[10]

अक्टूबर 2000 में एक साक्षात्कार में, ब्रिन ने कहा, "मैं कठिन समय से परिचित हूं जैसा कि मेरे पिता इस दौर से गुजरे हैं और इसके लिए मैं बहुत आभारी हूं कि मुझे इस देश में लाया गया।"[11] एक दशक पहले, 1990 की गर्मियों में, उनके 17वें जन्मदिन से कुछ हफ्ते पहले उनके पिता ने सोवियत संघ के लिए दो-सप्ताह के विनिमय प्रोग्राम के तहत उच्च विद्यालय के गणित छात्रों के एक समूह का नेतृत्व किया जिसमें सर्गी भी शामिल थे। "जैसा कि सर्गी याद करते हैं, इस यात्रा ने शासन के प्रति उनके बचपन के भय को जागृत कर दिया था" और वे याद करते हैं कि "सोवियत उत्पीड़न के खिलाफ जो पहली प्रतिक्रिया उन्होंने की थी वह थी एक पुलिस कार पर पत्थर फेंकना." मल्सीड कहते हैं, "यात्रा के दूसरे दिन, जब समूह ने मास्को के पास ग्रामीण इलाकों के आरोग्यआश्रम में दौरा किया, सर्गी अपने पिता को एक तरफ ले गए, उनकी आंखों में देखते हुए कहा कि हमें रूस से बाहर लाने के लिए धन्यवाद."[10][10]

अमेरिका में शिक्षासंपादित करें

ब्रिन ने अडेल्फी, मैरीलैंड में पेंट शाखा मोन्टेसरी स्कूल के ग्रेड स्कूल में दाखिला लिया, लेकिन उन्होंने घर पर अतिरिक्त शिक्षा प्राप्त की, उनके पिता जो कि मैरीलैंड विश्वविद्यालय में गणित विभाग में एक प्रोफेसर हैं, गणित में उनकी रूचि को बढ़ाने की कोशिश की और उनके परिवार वालों ने रूसी भाषा कौशल को बरकरार रखने में मदद की. ग्रीनबेल्ट, मैरीलैंड के इलियानोर रोजबेल्ट हाई स्कूल में पढ़ाई के बाद सितम्बर 1990 में ब्रिन ने कंप्यूटर विज्ञान और गणित में अध्ययन करने के लिए मेरीलैंड विश्वविद्यालय, पार्क कॉलेज में दाखिला लिया, जहां उन्होंने मई 1993 में ऑनर्स के साथ विज्ञान में स्नातक की डिग्री हासिल की.[12]

ब्रिन ने नेशनल साइंस फाउंडेशन के स्नातक अनुदान पर स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में कम्प्यूटर साइंस में स्नातक अध्ययन की शुरूआत की. 1993 में उन्होंने मैथेमेटिका के निर्माता, वोल्फ्रम रिसर्च में प्रशिक्षु का काम किया।[12] स्टैनफोर्ड में अपनी पीएच.डी. की पढ़ाई से उन्हने अवकाश लिया हुआ है।[13]

खोज इंजन विकाससंपादित करें

स्टैनफोर्ड में नए छात्रों के लिए दिशानिर्देश के दौरान उनकी मुलाकात लैरी पेज से हुई. हाल ही में द इकोनोमिस्ट के लिए एक साक्षात्कार में ब्रिन ने मजाक में कहा कि "हम दोनों ही घटिया प्रकार के हैं।" वे दोनों अधिकांश मुद्दों पर असहमत रहते थे। लेकिन एक साथ समय गुजारने के बाद, वे "बौद्धिक रूप से अच्छे साथी और करीबी दोस्त बन गए।" ब्रिन का ध्यान डेटा माइनिंग सिस्टम के विकास करने पर था जबकि पेज "एक अन्य लेखों में स्थित शोध लेख से उसके महत्व के निष्कर्ष निकालने की अवधारणा का विस्तार कर रहे थे।"[6] दोनों ने मिलकर एक लेख लिखा जिसे मौलिक योगदान माना जाता है जिसका शीर्षक था "द एनाटॉमी ऑफ ए लार्ज-स्केल हाइपरटेक्सचुअल वेब संर्च इंजन".[14]

अपने विचारों को जोड़ते हुए उन्होंने "अपने शयनगार को सस्ते कंप्यूटर के साथ भर दिया" और वेब पर अपनी नई खोज इंजन डिजाइन का परीक्षण किया। उनकी परियोजना इतनी विस्तृत होने लगी कि इसने "स्टैनफोर्ड की कंप्यूटिंग सुविधाओं में समस्या उत्पन्न" करना शुरू कर दिया. लेकिन उन्हें पता चला कि उन्होंने वेब खोज के लिए एक बेहतर इंजन बनाने में सफलता प्राप्त की है और इसलिए उन्होंने अपने सिस्टम पर अधिक ध्यान देने के लिए पीएचडी की पढ़ाई को छोड़ दिया.[6]

जैसा कि मल्सीड ने लिखा, "संकाय सदस्यों, परिवार और दोस्तों से कोष के लिए प्रार्थना करte हुए सर्गी और लैरी ने कुछ सर्वर खरीदने और मेनलो पार्क के उस प्रसिद्ध गैराज को किराये पर लेने के लिए पर्याप्त रूपए जमा कर लिए... [कुछ समय बाद ही], सन माइक्रोसिस्टम्स के सह-संस्थापक एंडी बेकटोलशेम ने गूगल इंक के लिए $100,000 का चेक दिया. केवल एक समस्या यह थी कि, "गूगल इंक," उस समय तक मौजूद नहीं था - तब तक कंपनी निगमित नहीं हुई थी। दो सप्ताह के लिए, जब तक वे कागजी काम को पूरा कर रहे थे, उन युवकों के पास पैसे जमा करने के लिए कोई जगह नहीं थी।"[10]

द इकोनोमिस्ट पत्रिका ने गूगल के द्वारा देखे गए सपने "सम्पूर्ण दुनिया की जानकारी को इकट्ठा करना और सार्वभौमिक अभिगम्यता और उपयोगी बनाने के उद्देश्य" के आधार पर, पेज की तरह ब्रिन के जीवन दृष्टिकोण का वर्णन किया। दूसरों ने उनके दृष्टिकोण की तुलना जोहानिस गुटेनबर्ग के साथ की जो आधुनिक मुद्रण के आविष्कारक हैं।:

"1440 में जोहानिस गुटेनबर्ग ने यूरोप में यांत्रिक प्रिंटिंग प्रेस की शुरूआत की और बड़े पैमाने पर उपभोग के लिए बाइबल का मुद्रण किया। इस तकनीक ने पुस्तकों और पांडुलिपियों के अत्यंत तेजी से मुद्रण की अनुमति दी - मूल रूप से हाथों से nakal की jaati थी - एक करने की सुविधा जिससे ज्ञान का प्रसार तेजी से बढ़े और यूरोपीय पुनर्जागरण में प्रवेशक के लिए मदद कर सके. . . गूगल ने भी कुछ इसी प्रकार का काम किया है।"[15]

द गूगल स्टोरी में भी लेखकों ने कुछ इसी प्रकार की तुलना की है। "गुटेनबर्ग के बाद कोई नया आविष्कार किसी व्यक्ति के द्वारा नहीं किया गया है, जानकारी के लिए परिवर्तित अभिगम्यता उतनी गूढ़ होती है जितनी गूगल."[9] :1

कुछ दिनों के बाद ही दोनों ने "वेब खोज के लिए उनके नई इंजन की शुरूआत की, उन्होंने वेब से परे आज की जानकारियों के बारे में सोचना शुरू किया", जैसे किताबों का अंकीयकरण करना, स्वास्थ्य जानकारी को बढ़ाना.[6]

निजी जीवन‍संपादित करें

मई 2007 में ब्रिन का विवाह बहामा में ऐनी वोजसिस्की से हुई. वोजसिस्की एक जैव प्रौद्योगिकी विश्लेषक हैं और 1996 में येल विश्वविद्यालय से जीव विज्ञान में बी.एस. स्नातक की डिग्री हासिल की है।[4][16] स्वास्थ्य जानकारी में उनकी काफी रूचि है और ब्रिन और वह साथ मिलकर इसे अभिगम्य बनाने के नए तरीकों में सुधार कर रहे हैं। अपने प्रयासों के हिस्से के रूप में उन्होंने ह्यूमन जीनोम परियोजना के बारे में मुख्य शोधकर्ताओं के साथ विचार मंथन किया है। "ब्रिन, सहज बोध से आनुवंशिकी को डेटाबेस और कंप्यूटिंग समस्या के रूप में महत्व देते हैं। वैसा ही उनकी पत्नी ने किया जब उन्होंने 23andMe की सह-स्थापना की", जो लोगों को उनके अपने आनुवांशिक मेकअप (गुणसूत्रों के 23 जोड़े से निर्मित) का विश्लेषण और तुलना करने में मदद करता है।[6] गूगल ज़ेटजिस्ट सम्मेलन पर हाल ही में घोषणा करते हुए उन्होंने कहा के वे आशा व्यक्त करते हैं कि एक दिन सभी लोग अपने आनुवंशिक कोड को सीखेंगे और डॉक्टरों, मरीजों और शोधकर्ताओं को उस डेटा के विश्लेषण करने और त्रुटियों को सुधारने की कोशिश में मदद करेंगे.[6]

ब्रिन की मां यूजेनिया का पार्किंसंस रोग का इलाज किया जा रहा है। 2008 में उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड स्कूल ऑफ मेडिसीन को दान देने का फैसला किया जहां उनकी मां का इलाज किया जा रहा है।[17] ब्रिन ने 23andMe सेवाओं का इस्तेमाल किया और पाया कि यद्यपि पार्किंसंस आमतौर पर वंशानुगत नहीं होता है, वह और उनकी मां दोनो में LRRK2 जीन का उत्परिवर्तन है जो कि बाद के वर्षों में पार्किंसंस के विकास की संभावना करीब 20 और 80% होती है।[6] जब उनसे पूछा गया कि ऐसे मामलों में नज़रअंदाजी क्या ठीक होगी, उन्होंने कहा कि उनके ज्ञान का मतलब है कि अब वह रोग को ठीक करने के कदम उठा सकते हैं। द इकोनोमिस्ट पत्रिका के एक संपादकीय में कहा गया कि "श्री ब्रिन को उनके LRRK2 कोड के उत्परिवर्तन के बारे में समझ अपने निजी बग के रूप में है और इस तरह कम्प्यूटर में भी इसी तरह के बग्स होते हैं और हर दिन गूगल के इंजीनियर इसे ठीक करते हैं। अपनी मदद के द्वारा, वे दूसरों की मदद भी अच्छी तरह से कर सकते हैं। वे खुद को भाग्यशाली समझते हैं। ... लेकिन श्री ब्रिन एक बहुत बड़ा मुद्दा बना रहे थे। क्या ज्ञान हमेशा अच्छा नहीं होता है और निश्चित रूप से हमेशा अज्ञान से बेहतर नहीं होता? "[6]

चीन में गूगल पर प्रतिबन्धसंपादित करें

इस विषय पर अधिक जानकारी हेतु, Censorship in the People's Republic of China पर जाएँ

अपनी जवानी और अपने परिवार के सोवियत संघ छोड़ने के कारणों को याद करते हुए, उन्होंने "खोज इंजन परिणामों को सेंसर करने की चीन की साम्यवादी सरकार के निर्णय को तुष्ट करने के गूगल के फैसले को लेकर दुःख जताया", लेकिन फैसला किया कि चीनी लोगों के पास गूगल के होने से सीमित ही सही लाभ तो होगा.[6] उन्होंने फॉर्च्यून पत्रिका को अपने तर्क का खुलासा किया:

"हमें लगा कि वहां हिस्सेदारी से और अपनी सेवाओं को और अधिक उपलब्ध करा कर, भले ही 100 प्रतिशत न सही लेकिन हम आदर्श रूप उपलब्ध कराना चाहते थे, जो कि चीनी वेब उपयोगकर्ताओं के लिए बेहतर होगा, क्योंकि वे अंततः और अधिक जानकारी प्राप्त करेंगे, हालांकि यह काफी नहीं है।"[18]

12 जनवरी 2010 को, गूगल ने अपने कंप्यूटर और कॉर्पोरेट ढांचे में अधिकांश मात्रा में साइबर अटैक की सूचना दी जो कि एक महीने पहले ही शुरू हुआ था जिसमें कई जीमेल खाते शामिल थे और गूगल के बौद्धिक संपदा की चोरी हुई थी। यह निर्धारित होने के बाद कि यह हमला चीन से शुरू हुआ था, कंपनी ने कहा कि चीन में खोज इंजन के सेंसर को बंद कर दिया जाएगा और हो सकता है पूरी तरह से चीन देश से इसे बाहर कर दिया जाएगा. न्यूयॉर्क टाइम्स ने बताया कि हमलावरों का मुख्य लक्ष्य चीनी मानव अधिकार कार्यकर्ताओं के जीमेल खातों का अभिगम करना था, लेकिन उस हमले का लक्ष्य वित्त, प्रोद्योगिकी, मीडिया और रसायन क्षेत्र के अन्य 20 बड़ी कंपनियां भी थी।[19][20] यह बाद में बताया गया कि इस हमले में "गूगल की एक बेशकीमती चीज़, एक पासवर्ड सिस्टम जो कि दुनिया भर में लाखों उपयोगकर्ताओं के उपयोग को नियंत्रित करता है" शामिल था।[21]

मार्च 2010 के उत्तरार्ध में चीन-आधारित खोज इंजन को आधिकारिक तौर पर बंद कर दिया गया जबकि इसके हांगकांग साइट के ऑपरेशन को सेंसर नहीं किया गया। इसी प्रकार के एक रणनीति के तहत, डोमेन रजिस्ट्रार गो डैडी इंक ने भी कांग्रेस से कहा कि उनके कुलसचिव के बारे में गोपनीय जानकारी के लिए चीनी की नई आवश्यकताओं के कारण इसे वापस ले लिया जाएगा.[22] गूगल के बारे में बात करते हुए ब्रिन ने एक साक्षात्कार के दौरान कहा कि "एक कारण के चलते हमें इस प्रकार के कदम उठाने में खुशी हो रही है कि चीन की स्थिति वास्तव में ऐसी है कि वह दूसरे देशों को अपने स्वयं की फायरवॉल के लिए कोशिश करने और उसे जारी करने का ढ़ाढस दे रहा था।[22] स्पीगेल के साथ एक अन्य साक्षात्कार के दौरान उन्होंने कहा, "हमारे लिए हमेशा से यह मुद्दा रहा है कि हम कैसे इंटरनेट पर खुलेपन को बढ़ावा दे सकें. हम मानते हैं कि यह सबसे अच्छी बात है कि इंटरनेट पर खुलेपन के सिद्धांतों का संरक्षण हम कर सकते हैं और जानकारी की स्वतंत्रता दे सकते हैं।".[23]

हालांकि केवल कुछ बड़ी कंपनियों ने अब तक उनके द्वारा उठाए गए कदम का समर्थन किया है, लेकिन कई इंटरनेट "स्वतंत्रता के समर्थकों ने इस कदम की प्रशंसा की" और इसने सांसदो से "अमेरिका में प्रशंसा प्राप्त की".[22][24] सीनेटर बायरन डोर्गन ने कहा कि "अभिव्यक्ति और जानकारी की स्वतंत्रता के क्षेत्र में गूगल का निर्णय एक मजबूत कदम है।"[25] और कांग्रेसी बॉब गुडलेटे ने कहा, "मैं Google.cn पर खोज परिणामों पर रोक लगाने के साहसिक कदम के लिए गूगल की सराहना करता हूं. गूगल ने रेत पर एक रेखा तैयार की है और चीन में व्यक्तिगत स्वतंत्रता के प्रतिबंधित क्षेत्र में एक रोशनी दी है।"[26] व्यवसाय की दृष्टि से कई लोगों ने कहा कि इस कदम से गूगल के लाभ में कमी होने की संभावना है: "इस कदम के लिए गूगल को भारी मात्रा में हरजाना भरना पड़ेगा, यही कारण है कि चीन में इसके सेवाएं उपलब्ध कराने से मना करने के कारण यह प्रशंसा पाने का हकदार है।"[27] द न्यू रिपब्लिक का कहना है कि "ऐसा लगता है गूगल फिर से वहीं लिंक के साथ आया है जो एंड्रेई सखारोव को जाहिर थी: एक ऐसा जो विज्ञान और स्वतंत्रता के बीच है", इस कदम को "वीरता" के रूप में संदर्भित किया।[28]

 
सर्गी ब्रिन

पुरस्कार और सम्मानसंपादित करें

नवम्बर 2009 में, फोर्ब्स पत्रिका ने ब्रिन और लैरी पेज को दुनिया का पांचवा सबसे शक्तिशाली माना.[29] इससे एक वर्ष पहले, फरवरी में, ब्रिन को नेशनल एकेडमी ऑफ इंजीनियरिंग में शामिल किया गया जो "एक इंजीनियर को दिया जाने वाला उच्चतम पेशेवर सम्मान है।..[और] उन लोगों को सम्मानित किया जाता है जिन्होंने इंजीनियरिंग अनुसंधान, अभ्यास में अभूतपूर्व योगदान दिया है।.. ". "वर्ल्ड वाइड वेब से तेजी से अनुक्रमण और प्रासंगिक जानकारी की बहाली के विकास में नेतृत्व के लिए" उन्हें विशेष रूप से चयनित किया गया।[30]

2003 में, "उद्यमशीलता की भावना को संगठित करने और नए व्यापार के निर्माण के लिए गति प्रदान करने के लिए" ब्रिन और पेज दोनों को ही IE बिजनेस स्कूल द्वारा एमबीए की मानद उपाधि प्रदान की गई।....".[31] और 2004 में उन्हें मारकोनी फाउंडेशन पुरस्कार से सम्मानित किया गया, "इंजीनियरिंग का सर्वोच्च पुरस्कार" और वे कोलंबिया यूनिवर्सिटी में मारकोनी फाउंडेशन के सदस्य के रूप में निर्वाचित हुए. "उनके चयन की घोषणा करते हुए, फाउंडेशन के अध्यक्ष जॉन जे इसेलिन ने दोनों को उनके इस आविष्कार के लिए बधाई दी, जिसने आज जानकारी पुनः प्राप्त करने के तरीके को मूलतः बदल दिया." "दुनिया के सबसे प्रभावशाली चयनित 32 कैडर के संचार प्रौद्योगिकी अग्रदूतों में वे शामिल हुए..."[32]

अपने सदस्यों की "प्रोफाइल" में, राष्ट्रीय विज्ञान फाउंडेशन में कई पूर्व पुरस्कार शामिल हैं:

वर्ल्ड इकोनोमिक फोरम और प्रौद्योगिकी, मनोरंजन और डिजाइन सम्मेलन पर विशेष वक्ता बनाया गया था। ... PC मैगज़ीन ने गूगल को शीर्ष 100 वेब साइटों और खोज इंजनों (1998) में रखा और 1999 में वेब ऐप्लीकेशन डेवेल्प्मेंट के नवप्रवर्तन के लिए गूगल को टेक्निकल एक्सिलेंस पुरस्कार से नवाजा. 2000 में, गूगल ने एक वेब्बी पुरस्कार जीता, जो तकनीकी उपलब्धि के लिए पीपल्स वॉईस पुरस्कार था और 2001 में उसे उत्कृष्ट खोज सेवा, सर्वश्रेष्ठ छवि खोज इंजन, सर्वश्रेष्ठ डिजाइन, अधिकांश वेबमास्टर हितैषी खोज इंजन और सर्वश्रेष्ठ खोज फ़ीचर के लिए खोज इंजन पुरस्कार से नवाज़ा गया।"[33]

फोर्ब्स के अनुसार वर्तमान में वे और लैरी पेज दोनों के पास 2010 में US$17.5 बिलियन की निजी संपत्ति के साथ दुनिया के 24वें सबसे अमीर व्यक्ति के रूप में बराबर हैं।[34]

अन्य रूचियांसंपादित करें

ब्रिन अन्य, अत्यंत निजी परियोजनाओं पर काम करते हैं जो कि गूगल से अलग है। उदाहरण के लिए, वे और पेज, गूगल के लोकहितैषी संस्था Google.org पर दुनिया के ऊर्जा और जलवायु समस्या को हल करने की कोशिश कर रहे हैं जो कि ऊर्जा अक्षय के व्यापक स्त्रोतों को प्राप्त करने के लिए वैकल्पिक ऊर्जा के उद्योग में एक निवेश है। कंपनी मानती है कि इसके संस्थापक "प्रौद्योगिकी के उपयोग से बड़ी समस्याओं को हल करना चाहते हैं।"[35]

अक्टूबर 2010 में, उदाहरण के लिए, उन्होंने इस्ट कोस्ट पॉवर ग्रिड में सहायता के लिए एक प्रमुख निवेश अपतटीय तट विंडपॉवर के विकास में निवेश किया,[36] जो अंततः संयुक्त राज्य अमेरिका प्रथम "अपतटीय विंड फार्म" बन गया।[37] एक हफ्ते पहले उन्होंने एक कार की शुरूआत कृत्रिम बुद्धि के साथ की जिसमें वीडियो कैमरा और रडार सेंसर का उपयोग करती हुई कार अपने आप ड्राइव कर सकती है।[35] भविष्य में, इसी तरह के सेंसर के साथ कारों के ड्राइवरों के साथ दुर्घटनाएं कम होगी. इन सुरक्षित वाहनों को हल्के वज़न में बनाया जा सकता है ताकी इसके उपयोग में ईंधन की कम खपत होगी.[38]

दुनिया को इसकी आपूर्ति में वृद्धि के लिए वे एक ऐसी कंपनी की तलाश कर रहे हैं जो इसके लिए प्रगतिशील हल का निर्माण करें.[39] वे टेस्ला मोटर्स के एक निवेशक हैं जो कि टेस्ला रोडस्टर का विकास कर रहे हैं, एक 244-मील (393 कि॰मी॰) रेंज इलेक्ट्रिक बैटरी वाहन है।

ब्रिन टेलीविजन शो ओर कई वृतचित्र पर प्रस्तुत हुए हैं, जिसमें चार्ली रोज, सीएनबीसी और सीएनए शामिल है। 2004 में एबीसी वर्ल्ड न्यूज़ टूनाइट द्वारा उन्हें और लैरी पेज को "पर्सन ऑफ द वीक" के लिए नामित किया गया। जनवरी 2005 में वर्ल्ड इकोनोमिक फोरम के "यंग ग्लोबल लीडर्स" के लिए उनका नामांकन किया गया था। 2009 की फिल्म ब्रोकन एरोज के वे और पेज कार्यकारी निर्माता थे।

जून 2008 में, ब्रिन ने स्पेस एडवेंचर्स में $4.5 मिलियन में निवेश किया जो कि वर्जीनिया-आधारित एक स्पेस टूरिज्म कंपनी है। उनका निवेश स्पेस एडवेंचर्स के प्रस्तावित 2011 की एक उड़ान के आरक्षण के रूप में संचित है। अब तक, स्पेस एडवेंचर्स ने अंतरिक्ष में सात पर्यटकों को भेजा है।[40]

विशिष्ट रूप से निर्मित एक बोइंग 767-200 और एक डोर्नियर अल्फा जेट के वे और पेज सह-स्वामी हैं और उसे रखने के लिए $1.4 मिलियन का भुगतान एक साल में करते हैं और मोफेट फेडरल एयरफील्ड पर गूगल अधिकारियों द्वारा दो गल्फस्ट्रीम ली जेट्स का स्वामित्व है। विमान में वैज्ञानिक उपकरण लगे थे जो कि विमान में प्रयोगात्मक डेटा एकत्र करने की अनुमति देते हैं, इसे नासा द्वारा स्थापित किया गया था।[41][42]

साथ ही ब्रिन, अम्बर (AmBAR) के एक सदस्य भी हैं जो अमेरिका में रूसी बोलने वाले पेशेवर व्यवसायी (प्रवासी और आप्रवासी दोनों) के लिए नेटवर्किं संगठन है। वे कई स्थानों में वक्ता के रूप में दिखाई देते हैं।[43]

उद्धरणसंपादित करें

  • "जब पैसा कमाना काफी आसान हो, तो वास्तविक नवपरिवर्तन और उद्यमशीलता के साथ आपको काफी सारा मिश्रित शोर प्राप्त होता है। कठिन समय में सिलिकॉन वैली का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन उभरता है"[39]
  • "हम इस धारणा के साथ आए थे कि सभी वेब पृष्ठों को समान रूप से नहीं बनाया जाता है। लोगों को बनाया जा सकता है - लेकिन वेब पेज नहीं".[44]
  • "प्रौद्योगिकी एक अंतर्निहित लोकतंत्रात्मक है। हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के विकास की वजह से, आप लगभग किसी भी पैमाने पर कार्य कर रहे हैं। इसका मतलब है कि हमारे जीवन में सब के पास बराबर शक्ति का उपकरण हो सकता है।"

सन्दर्भसंपादित करें

  1. 2005 compensations from Google: $1 in salary, $1723 in bonus, $41,999 other annual compensation, $3 all other compensation. Source: SEC. Google form 14A Archived 2011-06-04 at the Wayback Machine. Filed मार्च 31, 2006.
  2. "Google Executives Compensation". मूल से 5 मार्च 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 10 फ़रवरी 2011.
  3. "Profile page on Sergey Brin". Forbes. मूल से 11 फ़रवरी 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2010-04-05.
  4. Argetsinger, Amy (मई 13, 2007). "The Reliable Source". द वॉशिंगटन पोस्ट. मूल से 16 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2007-10-20. नामालूम प्राचल |coauthors= की उपेक्षा की गयी (|author= सुझावित है) (मदद)
  5. जंग येओं-जे गेट्टी छवियां लेख Archived 2016-04-21 at the Wayback Machine, 30 मई 2007
  6. "एनलाइटमेंट मैन", द इकोनोमिस्ट 6 दिसम्बर 2008 [1] Archived 2009-02-03 at the Wayback Machine
  7. स्मेल, विल (30 अप्रैल 2004). "प्रोफाइल: गूगल के संस्थापक Archived 2017-12-10 at the Wayback Machine". बीबीसी (BBC) समाचार. 07-01-2010 को पुनःप्राप्त.
  8. "सर्गी ब्रिन Archived 2011-02-01 at the Wayback Machine". NNDB 2010/01/07 को लिया गया।
  9. विजे, डेविड और मल्सीड, मार्क. द गूगल स्टोरी, डेल्टा पब्लिकेशन. (2006)
  10. मल्सीड, मार्क (फरवरी 2007). "सर्गी ब्रिन की कहानी Archived 2012-07-05 at the Wayback Machine". मुमेंट पत्रिका . 07-01-2007 को पुनःप्राप्त.
  11. स्कॉट, वर्जीनिया. गूगल: कोर्पोरेशंस दैट चेन्ज्ड दी वर्ल्ड, ग्रीनवुड प्रकाशन (2008)
  12. Brin, Sergey (जनवरी 7, 1997). "Resume". मूल से 22 मार्च 2008 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2008-03-09.
  13. "Sergey Brin: Executive Profile & Biography – BusinessWeek". Business Week. मूल से 8 मार्च 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2008-03-09. He is currently on leave from the PhD program in computer science at Stanford university...
  14. "द एनाटॉमी ऑप ए लार्ज-स्केल हाइपरटेक्सचुअल वेब खोज इंजन Archived 2015-09-27 at the Wayback Machine"
  15. सूचना प्रौद्योगिकी Archived 2015-01-19 at the Wayback Machine, 1 अक्टूबर 2009
  16. "Anne Wojcicki Marries the Richest Bachelor". Cosmetic Makovers. मूल से 28 अक्तूबर 2007 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2007-10-20.
  17. Helft, Miguel (सितंबर 19, 2008). "Google Co-Founder Has Genetic Code Linked to Parkinson's". दि न्यू यॉर्क टाइम्स. मूल से 13 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2008-09-18.
  18. मार्टिन, डिक. रिपब्लिक ब्रांड अमेरिका: हैट वी मस्ट डु टू रिस्टोर अवर रेपुटेशन एंड सेफगार्ड द फ्युचर ऑफ अमेरिकन एब्रॉड AMACOM Div अमेरिकी Mgmt. Assn. (2007)
  19. "गूगल, साइटिंग साइबर अटैक, थ्रेटेंस टू एक्जिट चाइना Archived 2011-05-13 at the Wayback Machine", न्यूयॉर्क टाइम्स, 12 जनवरी 2010
  20. "एक नया दृष्टिकोण चीन को". मूल से 13 जनवरी 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 10 फ़रवरी 2011.
  21. "साइबरअटैक ऑन गूगल सेड टू हिट पासवर्ड सिस्टम" Archived 2019-06-22 at the Wayback Machine न्यूयॉर्क टाइम्स, 19 अप्रैल 2010
  22. "ब्रिन ड्रोव गूगल टू पुल बैक इन चाइना" Archived 2011-02-07 at the Wayback Machine वाल स्ट्रीट जर्नल, 24 मार्च 2010
  23. "गूगल को-फाउंडर ऑन पुलिंग आउट ऑफ चाइना" Archived 2011-02-11 at the Wayback Machine स्पेइगल ऑनलाइन, मार्च 30, 2010
  24. "कांग्रेस स्लैम्स चाइना एंड माइक्रोसॉफ्ट, प्रेजेज गूगल" Archived 2011-05-03 at the Wayback Machine सीएनएन मनी, मार्च 24, 2010
  25. "गूगल डिल्स इन डाउट एमिड स्पैट विथ बीजिंग याहू न्यूज़, मार्च 25, 2010
  26. "गुडलेटे स्टेटमेंट इन सपोर्ट ऑफ गूगल्स डिसिजन टू स्टॉप सेन्सरिंग इन चाइना" Archived 2011-07-21 at the Wayback Machine 23 मार्च 2010
  27. "गूगल स्ट्रेट्जीइन चाइना डिजर्व्स प्रेज" Archived 2010-04-01 at the Wayback Machine कैनसस सिटी स्टार, मार्च 28, 2010
  28. "डोन्ट बी ईविल" Archived 2011-08-27 at the Wayback Machine, "द हिरोइज्म ऑफ गूगल,"द न्यू रिपब्लिक, 21 अप्रैल 2010
  29. "दुनिया का सबसे ताकतवर लोग: # 5 सर्गी ब्रिन और लैरी पेज" Archived 2010-05-29 at the Wayback Machine फोर्ब्स पत्रिका, नवंबर 11, 2009
  30. नेशनल अकादमी ऑफ इंजीनियरिंग Archived 2011-03-12 at the Wayback Machine, प्रेस रिलीज़, 6 फ़रवरी 2009
  31. ब्रिन और पेज एमबीए से सम्मानित Archived 2009-02-26 at the Wayback Machine, प्रेस रिलीज़, 9 सितम्बर 2003
  32. "मारकोनी फाउंडेशन की उच्चतम सम्मान से ब्रिन और पेज सम्मानित". प्रेस रिलीज़, 23 सितंबर 2004.
  33. नेशनल साइंस फाउंडेशन Archived 2011-05-13 at the Wayback Machine, फेलो प्रोफाइल
  34. "Topic page on Sergey Brin". Forbes. मूल से 2 नवंबर 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2010-04-05.
  35. "कार एंड विंड: व्हाट्स नेक्स्ट फोर गूगल एज इट पुशेश बियोंड द वेब?" Archived 2018-02-19 at the Wayback Machine वॉशिंगटन पोस्ट, 12 अक्टूबर 2010
  36. "द विंड क्राइज ट्रांसमिशन" Archived 2011-01-28 at the Wayback Machine आधिकारिक गूगल ब्लॉग, 11 अक्टूबर 2010
  37. "गूगल जोइंस परियोजना $5 बिलियन यू.एस. ऑफशोर विंड ग्रिड प्रोजेक्ट" Archived 2010-11-23 at the Wayback Machine रॉयटर 12 अक्टूबर 2010
  38. मार्कोफ, जॉन. "गूगल कार्स ड्राइव दैमसेल्व्स, इन ट्रैफिक" Archived 2019-06-09 at the Wayback Machine न्यूयॉर्क टाइम्स, अक्टूबर 9, 2010
  39. Guynn, जेसिका (17 सितंबर 2008). "गूगल्स श्मिट, पेज एंड ब्रिन होल्ड कोर्ट एट जेटजेस्ट Archived 2011-02-10 at the Wayback Machine". लॉस एंजिल्स टाइम्स . 07-01-2010 को पुनःप्राप्त. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> अमान्य टैग है; "LATimes" नाम कई बार विभिन्न सामग्रियों में परिभाषित हो चुका है
  40. Schwartz, John (जून 11, 2008). "Google Co-Founder Books a Space Flight". दि न्यू यॉर्क टाइम्स Online. मूल से 16 नवंबर 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2008-06-11.
  41. Helft, Miguel (सितंबर 13, 2007). "Google Founders' Ultimate Perk: A NASA Runway". दि न्यू यॉर्क टाइम्स. मूल से 29 अप्रैल 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2007-09-13.
  42. Kopytoff, Verne (सितंबर 13, 2007). "Google founders pay NASA $1.3 million to land at Moffett Airfield". San Francisco Chronicle. मूल से 16 मई 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2007-09-13.
  43. "रूसी प्रोफेशनल्स की अमेरिकी व्यापार एसोसिएशन". मूल से 4 अक्तूबर 2007 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 10 फ़रवरी 2011.
  44. अतिथि व्याख्यान, UC बर्कले Archived 2011-05-19 at the Wayback Machine 5 अक्टूबर 2005 - 40 मिनट

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

साक्षात्कारसंपादित करें

लेखसंपादित करें