सांगली (Sangli) भारत के महाराष्ट्र राज्य के सांगली ज़िले में स्थित एक शहर है। यह सांगली मिरज कुपवाड़ महानगर पालिका के अंतर्गत आता है। सांगली कृष्णा नदी के किनारे बसा हुआ है।[1][2]

सांगली
Sangli
सांगली गणपति मन्दिर
सांगली गणपति मन्दिर
सांगली is located in महाराष्ट्र
सांगली
सांगली
महाराष्ट्र में स्थिति
निर्देशांक: 16°51′11″N 74°34′59″E / 16.853°N 74.583°E / 16.853; 74.583निर्देशांक: 16°51′11″N 74°34′59″E / 16.853°N 74.583°E / 16.853; 74.583
देश भारत
राज्यमहाराष्ट्र
ज़िलासांगली ज़िला
ऊँचाई549 मी (1,801 फीट)
भाषा
 • प्रचलितमराठी
समय मण्डलभामस (यूटीसी+5:30)
पिनकोड416416
दूरभाष कोड0233
वाहन पंजीकरणMH-10

विवरणसंपादित करें

सांगली शहर दक्षिण-पश्चिम भारत के पश्चिम एवं दक्षिण महाराष्ट्र राज्य में स्थित है। सांगली नगर पुणे-बंगलुरु रेलमार्ग पर कोल्हापुर के पूर्व में कृष्णा नदी के किनारे स्थित है। यह शहर भूतपूर्व सांगली राज्य (1761-1947) की राजधानी था। सांगली संस्थान के वर्तमान राजा विजयसिंहराजे पटवर्धन हैं।

कृषिसंपादित करें

सांगली के आसपास का क्षेत्र कृषि उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है। ज्वार, गेहूँ और दलहन यहाँ की मुख्य फ़सलें हैं। हल्दी तो पूरे भारत के व्यापक बाजार पर नियंत्रण रखती है। तसगां क्षेत्र की विशेषता यहाँ के अंगूर हैं, जिसका एक बड़ा बाज़ार है। गन्ना मुख्य सिंचित फ़सल है, जिसने अनेक स्थानों की चीनी मिलों की उन्नति में सहायता की है।

व्यापार और उद्योगसंपादित करें

इसका दलहन और हल्दी का बाज़ार भारत की सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण मंडियों में से एक है। शहर के उद्योगों में सूती वस्त्र, तेल मिलें और पीतल व तांबे के सामान के निर्माण से जुड़े कारख़ानें हैं। सांगली सुनारों का पारम्परिक केंद्र है। यहाँ की चीनी मिल अग्रणी चीनी प्रसंस्करण इकाई के रूप में गिनी जाती है।

एक ऐसी बजार हैं.जो ऑन लाइन पूरी इंडिया मे सप्लाई करती हैं महाराष्ट्र कार ओल्ड पार्ट्स.हर लेटेस्ट कार के जुना औऱ नये स्पेअरपार्ट्स होम डिलीवरी की सुविधा , caroldpart.com.( www. Autorelife.in से भी जानकारी पा सकते हैं.पस्चिम महाराष्ट्र की 170 शॉप एक ही जगह बहूत बडी मार्केट सांगली मे हैं.जहाँ से पुरे इंडिया मे जूना मटेरियल सप्लाईहोता हैंऔऱ यहाँ ट्रक के ओल्ड स्पेअर पार्ट्स मिलते हैं.जिसका नाम सांगली लोखंड मार्केट. सांगली हैं.जिसके फाउंडर चेअरमेन.सलीमभाई नदाफ.हैं.कर्नाटक बॉण्डरी से नजदीक रहेनें से पुरे कर्नाटक स्टेट से भी बङा व्यापार होता हैं.यहाँ की ख़ूबसूरत वातवरण मे रहेना सेहत के लिए बहूत बढिया हैं.

शिक्षासंपादित करें

सांगली शहर में विद्यालयों, तकनीकी संस्थानों और शिवाजी विश्वविद्यालय, कोल्हापुर से संबद्ध कला, विज्ञान और प्रौद्योगिकी महाविद्यालय वाला यह एक महत्त्वपूर्ण शैक्षणिक केंद्र है।

विकाससंपादित करें

कृष्णा नदी के तट को छोड़कर सांगली का विस्तार सभी दिशाओं में तेजी से हो रहा है। पूर्व में सांगली और मिरज के मिलने से एक विशाल शहरी संकेंद्रण निर्मित होता है। मिरज भी एक भूतपूर्व रियासत की राजधानी था। यह वाद्य यंत्रों के निर्माण के लिए विख्यात है।

परिवहनसंपादित करें

मिरज एक रेलवे जंक्शन है, जहां से निकली शाखाएं पश्चिम में कोल्हापुर और पूर्व में कुरडुवाडी, सोलापूर को जोडता है।

सड़क द्वारा और रेलवे द्वारा बड़े नगरों से सम्बद्ध है।

पर्यटनसंपादित करें

सांगली का गणपति मंदिर श्रद्धालुओं के आकर्षण का केंद्र है। यहाँ स्थित मीर साहेब औलिया की दरग़ाह दूर-दूर तक मशहूर है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "RBS Visitors Guide India: Maharashtra Travel Guide Archived 2019-07-03 at the Wayback Machine," Ashutosh Goyal, Data and Expo India Pvt. Ltd., 2015, ISBN 9789380844831
  2. "Mystical, Magical Maharashtra Archived 2019-06-30 at the Wayback Machine," Milind Gunaji, Popular Prakashan, 2010, ISBN 9788179914458