सात रंग के सपने

1998 की प्रियदर्शन की फ़िल्म

सात रंग के सपने 1998 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। प्रियदर्शन द्वारा निर्देशित इस फिल्म में जूही चावला, अरविन्द स्वामी, फरीदा ज़लाल, अनुपम खेर, सतीश शाह, और टिन्नू आनन्द मुख्य कलाकार हैं। यह निर्देशक की 1994 की एक मलयालम फिल्म की रीमेक है जिसमें मोहनलाल और शोभना मुख्य कलाकार थे।

सात रंग के सपने
सात रंग के सपने.jpg
सात रंग के सपने का पोस्टर
निर्देशक प्रियदर्शन
निर्माता अमिताभ बच्चन
लेखक प्रियदर्शन
अभिनेता अरविन्द स्वामी,
जूही चावला,
फरीदा ज़लाल,
अनुपम खेर,
सतीश शाह
प्रदर्शन तिथि(याँ) 20 फरवरी, 1998
देश भारत
भाषा हिन्दी

संक्षेपसंपादित करें

यशोदा (फरीदा ज़लाल) की ज़बरदस्ती एक मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति से शादी करा दी जाता है। वो बाद में एक बच्चे को जन्म देती है और उस बच्चे को अकेले छोड़ कर हमेशा के लिए चली जाती है। उसके इस तरह अकेले छोड़ कर चले जाने से उसका भाई, भानु (अनुपम खेर) गुस्से में रहता है और इसका बदला लेने की भी सोचता है। अपने इस गुस्से को बाहर निकालने के लिए हर साल वो अपने नौकर और अच्छे दोस्त, महिपाल (अरविंद स्वामी) को बैल गाड़ी के प्रतियोगिता में भाग लेने और अपनी बहन के ससुराल वालों को हराने की बात करता है। महिपाल हर साल जीतते रहता है।

भानु चालीस के पास पहुँचने के बाद भी शादी नहीं किए रहता है और अपने गाँव में रहने वाली एक लड़की (अरुणा ईरानी) को लुभाने की कोशिश करते रहता है। एक दिन भानु और महिपाल, अपने बैल गाड़ी में जाते रहते हैं और तभी उन्हें बलदेव (सतीश शाह) और उसकी बहन, जालिमा (जूही चावला) मिलते हैं। भानु को जालिमा से प्यार हो जाता है, वहीं महिपाल उन दोनों को पसंद नहीं करता और बीच रास्ते से ही भगाना चाहते रहता है।

मुख्य कलाकारसंपादित करें

संगीतसंपादित करें

सभी गीत समीर द्वारा लिखित; सारा संगीत नदीम-श्रवण द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."आती है तो चल"बाबुल सुप्रियो, अलका याज्ञनिक6:20
2."झूठी झूठी"उदित नारायण6:14
3."दिलों का हाल"प्रिया, बाबुल सुप्रियो4:55
4."सात रंग के सपने"अलका याज्ञनिक, एम॰ जी॰ श्रीकुमार4:57
5."मुझ पे भी जवानी"कविता कृष्णमूर्ति, कुणाल गांजावाला5:55
6."बा बा बताओ ना"अलका याज्ञनिक, बाबुल सुप्रियो5:21

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें