सिंटेल, इनकोर्पोरेटेड (Syntel, Inc.) (नैस्डैकSYNT) सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) एवं नॉलेज प्रॉसेस आउटसोर्सिंग (केपीओ-KPO) संबंधी समाधानों का एक वैश्विक प्रदाता है, जिसके वैश्विक विकास केंद्र भारत एवं संयुक्त राज्य अमेरिका में हैं।

Syntel, Inc.
प्रकार Public (नैस्डैकSYNT)
उद्योग Information technology
स्थापना Troy, Michigan 1980 (1980)
संस्थापक Bharat Desai, Neerja Sethi
मुख्यालय Troy, Michigan, USA
स्थान संख्या 27 offices worldwide
क्षेत्र Worldwide
प्रमुख व्यक्ति Bharat Desai, Chairman
Prashant Ranade, CEO
Arvind Godbole, CFO
उत्पाद List of Syntel services
राजस्व $723.9 million (2012)
कर्मचारी over 21,407 (Dec 2012)
वेबसाइट http://www.syntelinc.com

सिंटेल की स्थापना ट्रॉय, मिशिगन में 1980 में मिशिगन विश्वविद्यालय के स्टीफन एम. रॉस स्कूल ऑफ़ बिजनेस के एक भारतीय स्नातक भरत देसाई एवं नीरजा सेठी द्वारा 2000 डॉलर के आरंभिक निवेश के साथ की गई। शुरुआत में "सिस्टम्स इंटरनेशनल" के नाम से जानी जाने वाली इस कंपनी ने स्थानीय निगमों को सॉफ्टवेयर सेवाएं प्रदान करनी शुरू कीं, जिससे पहले वर्ष में इसे 30,000 डॉलर की आय हुई.

1 फ़रवरी 2010 को, सिंटेल (Syntel) ने घोषणा की कि प्रशांत रानडे की पदोन्नति करके उन्हें सीईओ (मुख्य कार्यकारी अधिकारी) बनाया जा रहा है। संस्थापक और पूर्व सीईओ भरत देसाई बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में कार्य करते रहेंगे एवं वे इसके प्रमुख शेयरधारक भी हैं।

दसमबर, 2012 की स्थिति में, सिंटेल में 0 से अधिक कर्मचारी हैं और इसकी वार्षिक आय 723 मिलियन डॉलर से अधिक है।

वैश्विक वितरणसंपादित करें

आरंभिक वर्षों के दौरान सिंटेल के तेजी से विस्तार ने इसके नेतृत्व को इसके महत्वपूर्ण आईटी स्टाफिंग व्यवसाय में वृद्धि करने के लिए प्रदान की जा सकने वाली अतिरिक्त सेवाओं की खोज करने के लिए प्रेरित किया।

1988 में, सिंटेल (Syntel) ने अपने ग्राहकों को विकास और रखरखाव संबंधी सेवाएं प्रदान करना शुरू किया। 1992 में इसके भारत में प्रथम पूर्ण-स्वामित्व वाले विकास केन्द्रों में विस्तार के साथ, सिंटेल ने ऑनसाइट/ऑफशोर (अपतटीय) मॉडल के आधार पर सॉफ्टवेयर आउटसोर्सिंग सेवाएं प्रदान करना शुरू किया, जिसने अंतर्राष्ट्रीय दूरसंचार नेटवर्क के माध्यम से भारत स्थित सॉफ्टवेयर डेवलपर्स को ग्राहक के स्थल में स्थित परियोजना प्रबंधक से जोड़ दिया.

इस मॉडल ने सिंटेल को ऑफशोर (अपतटीय) मजदूरी की दर संबंधी लागत को ऑनसाइट परियोजना प्रबंधन के लचीलेपन एवं प्रतिक्रियात्मकता के साथ प्रदान करने में सक्षम बनाया. आईटी सेवा वितरण के इस मॉडल को अब व्यापक रूप से वैश्विक वितरण मॉडल (ग्लोबल डिलिवरी मॉडल) के रूप में जाना जाता है, एवं अपने ग्राहकों को यह सुविधा प्रदान करने वाली संयुक्त राज्य अमेरिका स्थित प्रथम कंपनियों में से सिंटेल एक था।

विश्वव्यापी (दुनिया भर के) कार्यालयसंपादित करें

सिंटेल का वैश्विक मुख्यालय ट्रॉय, मिशिगन में उपनगरीय डेट्रायट में स्थित है। सिंटेल के दुनिया भर में 27 सुविधा केंद्र हैं जो संयुक्त राज्य अमेरिका, भारत, इंग्लैंड, जर्मनी, सिंगापुर एवं हांगकांग में स्थित हैं। कंपनी के अपतटीय सॉफ्टवेयर विकास केंद्र भारत में मुंबई, चेन्नई एवं पुणे में स्थित हैं। इसके संयुक्त राज्य अमेरिका स्थित विकास केंद्र फ़ीनिक्स, एरिजोना; नैशविले, टेनिस्सी; एवं मेम्फिस, टेनिस्सी में स्थित हैं।

सिंटेल के मुम्बई विकास केन्द्रों में वर्तमान में 4000 से अधिक सॉफ्टवेयर पेशेवर कार्यरत हैं और साथ ही इसके अलावा 2,000 सॉफ्टवेयर पेशेवर चेन्नई में कार्यरत हैं। 2004 में, सिंटेल ने पुणे, भारत में एक नए प्रौद्योगिकी परिसर की आधारशिला रखी. पहला चरण 2005 में शुरू हुआ जिसकी क्षमता 3000 कर्मचारियों की है। पूरा हो जाने पर, इस सुविधा में 9,000 सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को रखने की व्यवस्था होगी.

सिंटेल ने मई, 2010 में चेन्नई, भारत में अपने नए 27-एकड़ (110,000 मी2)प्रौद्योगिकी परिसर के पहले चरण की भी शुरुआत की है। चेन्नई परिसर में वर्तमान में 1,700 डेवलपर्स के बैठने की क्षमता है जिसे अंतत: बढ़ाकर 10,000 कर्मचारियों को समायोजित करने की योजना है।

यह संयुक्त राज्य अमेरिका में सबसे तेजी से बढ़ रही कंपनियों में से एक है।

कंपनी का इतिहाससंपादित करें

  • 1980 : सिंटेल की स्थापना कर्मचारी संख्या में वृद्धि करने वाली एक फर्म के रूप में हुई, जिस पेशकश को बाद में टीमसोर्सिंग के रूप में जाना गया.
  • 1988: सिंटेल पूर्ण जीवनचक्र रखरखाव, विकास और प्रवास सेवाओं को प्रदान करना शुरू किया, जो बाद में इंटेलीसोर्सिंग (IntelliSourcing) के रूप में विकसित हुईं.
  • 1992: सिंटेल ने भारत में मुंबई और चेन्नई में अपने पहले दो वैश्विक विकास केंद्र खोले जिससे यह वैश्विक वितरण मॉडल का उपयोग करने वाली प्रथम अमेरिका स्थित आईटी सर्विस कंपनियों में से एक बन गया.
  • 1994: सिंटेल की आय 50 मिलियन डॉलर से ऊपर पहुंची और 1000 से अधिक कर्मचारियों को रोजगार पर रखा गया.
  • 1994: सिंटेल ने कैरी, नॉर्थ कैरोलिना में अपना तीसरा वैश्विक विकास केन्द्र खोला, जो इसके वैश्विक वॉईस तथा डेटा नेटवर्क के अमेरिकी हब के रूप में कार्य करता है।
  • 1997: नास्डाक में इसके स्टॉक द्वारा SYNT के नाम के साथ ट्रेडिंग शुरू करने के साथ अगस्त में सिंटेल एक सार्वजनिक कंपनी बनती है; इसकी इनीशियल पब्लिक ऑफरिंग (आईपीओ) में 3.45 मिलियन शेयरों को जारी किया गया; सिंटेल सिंगापुर और लंदन में अपने कार्यालयों को खोलता है; इसकी आय 100 मिलियन डॉलर के आंकड़े को पार कर जाती है।
  • 1998: सिंटेल के मुंबई और चेन्नई स्थित वैश्विक विकास केंद्र आईएसओ (ISO) 9001 प्रमाणीकरण प्राप्त करते हैं; सिंटेल को फ़ोर्ब्स की "अमेरिका की 200 सर्वश्रेष्ठ लघु कंपनियों" की सूची में दूसरा स्थान प्राप्त होता है।
  • 2000: सिंटेल बीपीओ सेवाओं की ओर बढ़ना करना शुरू करता है और अपने एचआर (HR), फाइनेंस तथा हेल्पडेस्क कार्यों को अमेरिका से भारत स्थानांतरित कर देता है।
  • 2001: सिंटेल के वैश्विक विकास केन्द्रों को एसईआई सीएमएम स्तर 5 का मूल्यांकन प्राप्त होता है और इस प्रकार यह इस मानक लक्ष्य को प्राप्त करने वाली अमेरिका में मात्र 15 कंपनियों में से एक बन जाती है; सिंटेल नैशविल, टीएन में एक स्वास्थ्यसेवा-केंद्रित वैश्विक विकास केन्द्र और म्यूनिक, जर्मनी में एक क्षेत्रीय कार्यालय खोलता है।
  • 2002: सिंटेल फीनिक्स, एज़ेड (AZ) तथा पुणे, भारत में वैश्विक विकास केन्द्रों को खोलता है।
  • 2003: सिंटेल के मुंबई और चेन्नई स्थित वैश्विक विकास केंद्र आईएसओ 9001:2000 प्रमाणीकरण प्राप्त करते हैं।
  • 2004: सिंटेल मुंबई में एक समर्पित बीपीओ केन्द्र खोलता है; सिंटेल के वैश्विक विकास केन्द्रों को बीएस 7799 सुरक्षा प्रमाणीकरण प्राप्त होता है।
  • 2005: सिंटेल के वैश्विक विकास केंद्र एसईआई CMMi लेवल 5 प्राप्त करते हैं; सिंटेल अपने पुणे टैक्नोलॉजी कैम्पस के प्रथम चरण की शुरुआत करता है। सिंटेल चेन्नई में दूसरे टेक्नोलॉजी कैम्पस के लिए 27-एकड़ (110,000 मी2) पार्सल भूमि अधिग्रहित करता है।
  • 2008: सिंटेल अपने चेन्नई प्रौद्योगिकी परिसर में कार्य शुरू करता है और पहली बार 400 मिलियन से अधिक की आय दर्ज करता है।
  • 2009: सिंटेल केशव मुरुगेश को अध्यक्ष तथा सीईओ का पद प्रदान करता है। भरत देसाई बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में बने रहते हैं।
  • 2010: प्रशांत रानडे सिंटेल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बनते हैं; सिंटेल अपने चेन्नई प्रौद्योगिकी परिसर के प्रथम चरण की शुरुआत करता है।

फैक्ट शीटसंपादित करें

संपर्क जानकारी 525 ई. बिग बेवर, सुइट 300
ट्रॉय, मिशिगन 48083
टेलीफोन: 248-619-2800
फैक्स: 248-619-2888
उल्लेखनीय सहयोगी एब इनिशियो, एक्चूयेट, बीईए सिस्टम्स, बोर्लैंड, बिजनेस ऑब्जेक्ट्स, सिट्रिक्स, कॉग्नोस, फास्ट डाटा, आईबीएम, आइडेंटिफाई सॉफ्टवेयर, इन्फोर्मेटिका कॉर्पोरेशन, मरक्यूरी इंटरेक्टिव, माइक्रोसॉफ्ट, माइक्रोस्ट्रेटजी, ओरेकल कॉर्पोरेशन, सेरडेन टेक्नोलॉजीज, सन माइक्रोसिस्टम्स, टीआईबीसीओ, विअनेटा कम्यूनिकेशंस
उद्योग सेवा-क्षेत्र
गुणवत्ता प्रमाणपत्र
एसईआई सीएमएमआई लेवल 5, ISO 9001:2000, आईएसओ 27001, परियोजना प्रबंधन संस्थान (पीएमआई)
सेवाएं

एप्लीकेशंस आउटसोर्सिंग: कस्टम अनुप्रयोग विकास, रखरखाव, प्लेटफार्म माइग्रेशन (प्रवासन)/संवर्धन. (राजस्व का 67%)

केपीओ: लेखा देय, लेखा प्राप्य, प्रशासन, बिलिंग, बहीखाता, कॉल सेंटर, दावा प्रसंस्करण, अनुबंध प्रबंधन, ग्राहक सेवा, वितरण सेवाएं, हेल्पडेस्क, प्रचालन तंत्र, भुगतान और संग्रह सेवाएं, पेरोल, बिक्री और विपणन स्टाफिंग, रणनीति और विश्लेषण, टेलीमार्केटिंग और लेनदेन प्रसंस्करण. (राजस्व का 20%)

ई-बिजनेस: वेब वास्तुकला/अनुकलन, डाटा संग्रहण, ग्राहक संबंध प्रबंधन (सीआरएम), उद्यम अनुप्रयोग अनुकलन (ईएआई), बिजनेस एक्स्चेंज/मार्केटप्लेसेज. (राजस्व का 10%)

टीम सोर्सिंग: आईटी स्टाफ की वृद्धि (राजस्व% 3)



मिशिगन बिज़नस डेवेलपमेंट काउंसिल तथा कई अन्य सप्लायर डाइवर्सिटी ऑर्गेनाइजेशन द्वारा माइनोरिटी बिज़नस एंटरप्राइज़ के रूप में प्रमाणित.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें