सोलोमन मन्दिर अथवा सालोमन मंदिर का उल्‍लेख बाइबिल में प्रथम मंदिर के नाम से मिलता है। इस मंदिर का निर्माण 10वीं शताब्‍दी ईसा पूर्व में हुआ था। लेकिन बेबीलोन के शासकों ने 586 ई. में इसे तोड़ डाला था। बाद में इस मंदिर का पुर्नर्निमाण किया गया। आज भी इस मंदिर के अवशेषों को देखा जा सकता है। यह मंदिर हिब्रू संप्रदाय से संबंधित है।

सन्दर्भसंपादित करें