हरनावा राजस्थान के नागौर जिले का एक गांव है। यह बङू से मात्र 7 किमी दूर है। यहां प्रसिद्ध वीराँगना रानाबाई का सन् 1543 में चौधरी जालमसिंह धूण के घर में जन्म हुआ।

हरनावा में रानाबाई जी की समाधी है

हरनावा है देव भूमि

हरनावा की स्थापना हरजी जी भाटी ने की।हरजी जी भटनेर हनुमान गढ़ के भाटी जाट शासक थे।भटनेर पर हुए आक्रमणों से परेशान होकर मालवा ( मंदसौर) जा रहे थे।रात्रि हो जाने के कारण हरनावा में रुके। हरनावा में पागल नाथ जी अपने धूणे पर तपस्या कर रहे थे।