हुंडई मोटर कंपनी

दक्षिण कोरियाई बहुराष्ट्रीय वाहन निर्माता

हुंडई मोटर कंपनी (कोरियाई : 현대자동차, 現代自動車; अंग्रेज़ी: Hyundai Motor Company; ), एक दक्षिण कोरियाई बहुराष्ट्रीय मोटर वाहन निर्माता कंपनी है, जिसका मुख्यालय सियोल, दक्षिण कोरिया में है। कंपनी की स्थापना 1967 में हुई थी और इसकी 32.8% स्वामित्व वाली सहायक कंपनी किआ मोटर्स और इसकी 100% स्वामित्व वाली सहायक सहायक कंपनी जेनेसिस मोटर्स[2] को मिला कर, हुंडई मोटर समूह स्थापित की गई थी। यह दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा वाहन निर्माता कंपनी है।[3]

क्वालकॉम
व्यापार करती है लंदन शेयर बाजार, नैस्डैक Edit this on Wikidata
उद्योग मोटर वाहन उद्योग[1] Edit this on Wikidata
नियति सक्रिय
स्थापना सियोल[1] Edit this on Wikidata 1967 Edit this on Wikidata
संस्थापक चुंग जु-युंग Edit this on Wikidata
मुख्यालय सियोल[1] Edit this on Wikidata, दक्षिण कोरिया[1] Edit this on Wikidata
उत्पाद ट्रक, मोटरवाहन Edit this on Wikidata
सहायक कंपनियाँ बोस्टन डायनेमिक्स Edit this on Wikidata
वेबसाइट http://worldwide.hyundai.com Edit this on Wikidata

हुंडई, उल्सान, दक्षिण कोरिया में दुनिया की सबसे बड़ी एकीकृत मोटरवाहन निर्माण कारखाना संचालित करती है[4], जिसकी वार्षिक उत्पादन क्षमता 1.6 लाख इकाई है। कंपनी दुनियाभर में करीब 75,000 लोगों को रोजगार देती है। हुंडई अपने वाहनों को 193 देशों में 5000 डीलरशिप और शोरूम के माध्यम से बेचती है।[5]

क्षेत्रीय संचालनसंपादित करें

भारतसंपादित करें

 
श्रीपेरंबुदुर के पास इरुंगट्टुकोटाई में हुंडई के विनिर्माण कारखाना, चेन्नई, भारत

हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड[6] भारत में वर्तमान में दूसरा सबसे बड़ा वाहन निर्यातक है।[7] यह भारत को छोटी कारों के लिए वैश्विक विनिर्माण का केन्द्र बना रही है।

हुंडई भारत में कई उत्पाद बेचती है, सबसे लोकप्रिय सैंट्रो जिंग, आई10[8], हुंडई ईओन और आई20 हैं। 3 सितंबर 2013 को, हुंडई ने अपने सबसे सफल कार का पेट्रोल और डीजल संस्करणों में नया उत्पाद ग्रैंड आई10[9] जारी किया। इसके अन्य उत्पाद में गेटज़, एक्सेंट, एलांत्र, दूसरी पीढ़ी की वरना, सांता फ़े और सोनाटा ट्रांसफ़ॉर्म शामिल हैं। हुंडई का भारत के तमिलनाडु राज्य में श्रीपेरंबदुर में दो विनिर्माण संयंत्र स्थित हैं। दोनों संयंत्रों की संयुक्त वार्षिक उत्पादन क्षमता 600,000 इकाइयों की है। वर्ष 2007 में, हुंडई ने हैदराबाद में अपनी आरएंडडी सुविधा कि शुरूआत की, जिसमें देश के विभिन्न हिस्सों के करीब 450 इंजीनियर कार्यरत है।

जून 2017 में, भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने कारों के लिए छूट प्रदान करने के संबंध में अनुचित व्यापारिक व्यवहारों के लिए 87 करोड़ ($13.6मिलियन) का कंपनी पर जुर्माना लगाया।[10]

उत्पादसंपादित करें

वर्तमान

सेडान, हैचबैक और स्पोर्ट्स कारेंसंपादित करें

  • एक्सेंट/वरना
  • असलन
  • एलांट्रा/एवेंटे/लेंट्रा
  • इओन
  • आई20
  • ग्रांडेयर/अजेरा/एक्सजी (मूल रूप से हुंडई और मित्सुबिशी की एक संयुक्त परियोजना)
  • आई10/ग्रैंड आई10
  • आई20
  • आई30
  • हुंडई आई40
  • मिस्ट्रा (बैग और हुंडई की संयुक्त परियोजना)
  • हुंडई सोनाटा
  • वैलोस्टर
  • एक्सेंट
  • हुंडई क्रेटा

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. https://www.hyundai.com/content/dam/hyundai/ww/en/images/about-hyundai/ir/financial-statements/annual-report/HMCAnnualReport20160630.pdf.
  2. Kim, Sohee (Nov 4, 2015). "Hyundai launches Genesis premium car brand in bid to end profit skid". Reuters. मूल से 18 नवंबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 November 2015.
  3. "संग्रहीत प्रति" (PDF). मूल से 28 अगस्त 2017 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 21 दिसंबर 2017.
  4. Taylor III, Alex (2010-01-05). "Hyundai smokes the competition". CNN. मूल से 24 मई 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 दिसंबर 2017.
  5. "Hyundai ships 10 millionth car overseas". the korea herold. अभिगमन तिथि 2016-03-31.
  6. Correspondent, Special. "Hyundai plans to enter three new segments". The Hindu (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2017-03-09.
  7. Nikhil Gulati, Santanu Choudhury (2009-08-11). "Vehicle Sales in India Surge 31%, the Fastest Pace in Over Two Years". Wall Street Journal. मूल से 8 मार्च 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2009-08-11.सीएस1 रखरखाव: authors प्राचल का प्रयोग (link)
  8. PTI. "Hyundai decides to pull the plug on i10". The Hindu (अंग्रेज़ी में). मूल से 9 मार्च 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2017-03-09.
  9. "2017 Hyundai Grand i10 facelift ready for launch". The Hindu (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2017-03-09.
  10. "Competition Commission slaps Rs 87 crore fine on Hyundai Motor India". The Times of India. June 14, 2017. मूल से 21 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 दिसंबर 2017.