हैरल्ड द्वितीय या हैरल्ड गॉडविनसन, इंग्लैंड राज्य के अंतिम आंग्ल-सैक्सन राजा थे। उन्होंने ६ जनवरी १०६६ से १४ ओक्टूबर १०६६ में हैस्टिंग्स् की लड़ाई में अपनी मृत्यु तक अंग्रेज़ी राजशाही पर हुकूमत की थी। १४ अक्टूबर १०६६ को इंग्लैंड पर नॉर्मन आक्रमण के दौरान हैस्टिंग्स् में नॉर्मन आक्रमणकारियों के खिलाफ़ लड़ते हुए, युद्धभूमि में उनकी मृत्यु होगयी थी। उनकी मृत्यु ने इंग्लैंड पर आंग्ल-सैक्सन राज का अंत कर दिया, और विलियम द कॉंकरर के नेतृत्व में इंग्लैंड पर नॉर्मन राज शुरू हुआ।

बैक्स टेपेस्ट्री में इंग्लैंड के राजा के रूप में हैरल्ड द्वितीय का अंकन, लैटिन भाषा लेख:HIC RESIDET HAROLD REX ANGLORUM. STIGANT ARCHIEP(I)S(COPUS). "यहाँ बैठे हैं हैरल्ड, इंगलैंड के राजा। आर्चबिशप स्टिगंड(द्वारा राज्याभिषेक के बाद)"।

हैरल्ड, एक शक्तिशाली अर्ल और एक रसूख़दार आंग्ल-सैक्सन परिवार के सदस्य थे, जिसके संबंध, राजा क्नुट् के साथ थे। एडवर्स द कंफ़ेसर की मृत्यु के बाद, उन्हें अगला राजा चुना गया था। ऐसा माना जाता है की उनका राज्याभिषेक वेस्टमिंस्टर ऐबी में किया गया था, हालाँकि इसके कोई प्रमाण मौजूद नहीं हैं।[1] सितम्बर महीने के अंतिम दिनों में उन्होंने सिंघासन के एक प्रतिद्वंदी दावेदार को सफलतापूर्वक रूप से पराजित कर दिया, परंतु इस विजय के दो सप्ताह बाद, दक्षिण की और से कूच कर रही विलयम विजयी की सेना के हाथों हैस्टिंग्स में उन्हें स्वयं पराजय और मृत्यु का सामना करना पड़ा।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Error in Webarchive template: Invalid URL.[[श्रेणी:वेबआर्काइव टेम्पलेट त्रुटियाँ]] Westminster Abbey Official site – Coronations". मूल से 16 अक्तूबर 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 अक्तूबर 2009. URL–wikilink conflict (मदद)

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें