१९३६ ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में भारत

भारत ने बर्लिन, जर्मनी में आयोजित हुए 1936 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में भाग लिया था। इन खेलों में भारत की पुरुष हॉकी टीम ने अपना तीसरा स्वर्ण पदक जीता था। मेजर ध्यानचंद ने भारतीय दल का नेतृत्व किया।[1]

भारत ऑलंपिक खेलों में

ब्रिटिश राज में भारत का ध्वजध्वज धारक
IOC कूट  IND
NOC भारतीय ऑलंपिक संघ
जालस्थलwww.olympic.ind.in
बर्लिन
खिलाड़ी
पदक स्वर्ण
1
रजत
0
कांस्य
0
कुल
1
ऑलंपिक इतिहास
 • ग्रीष्मकालीन खेल
१८९६ • १९०० • १९०४ • १९०८ • १९१२ • १९२० • १९२४ • १९२८ • १९३२ • १९३६ • १९४८ • १९५२ • १९५६ • १९६० • १९६४ • १९६८ • १९७२ • १९७६ • १९८० • १९८४ • १९८८ • १९९२ • १९९६ • २००० • २००४ • २००८ • २०१२  • २०१६

पदक धारकसंपादित करें

  स्वर्णसंपादित करें

पुरुष मैदानी हॉकी टीम : ध्यानचंद सिंह (कप्तान)[2], रिचर्ड एलन, अर्नेस्ट कुल्लैन, अली दारा, लिओनेल एम्मेट, पीटर फर्नांडेस, जोसफ गालीबर्डी, मोहमद हुसैन, मोहमद जफर, अहमद शेर खान, अहसान मोहमद खान, मिर्ज़ा मसूद, सायरिल मीचिए, बाबू निमल, जोसफ फिलिप, शब्बन शहाब उद-दीन, जी.एस. गरेवाल, रूप सिंह और कार्लाइल तापसेल

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "लॉस एंजिलिस में जफर इकबाल से रियो ओलंपिक में अभिनव बिंद्रा तक: ओलंपिक उद्घाटन समारोह में भारतीय ध्वजवाहकों की पूरी लिस्ट". Jansatta. 2016-08-05. मूल से 22 मई 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2019-11-28.
  2. "Olympic Captains Of India". Hockey India (अंग्रेज़ी में). मूल से 21 सितंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2019-11-28.