अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित योग दिवस

अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस प्रतिवर्ष 21 जून को मनाया जाता है। यह दिन वर्ष का सबसे लम्बा दिन होता है और योग भी मनुष्य को दीर्घायु बनाता है। पहली बार यह दिवस 21 जून 2015 को मनाया गया, जिसकी पहल भारत के प्रधानमन्त्री श्रीमान नरेन्द्र मोदी नें 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण से की थी जिसमें उन्होंने कहा था कि:

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस
International Day of Yoga Logo by United Nations.jpg
2016 में अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस
आधिकारिक नाम अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस
अन्य नाम योग दिवस, विश्व योग दिवस
अनुयायी विश्वभर
प्रकार संयुक्त राष्ट्र
उत्सव योग, ध्यान, सामूहिक मन्थन, विचार-विमर्श, सांस्कृतिक आयोजन
तिथि 21 जून
आवृत्ति वार्षिक
First time 21 जून 2015
"योग भारत की प्राचीन परम्परा का एक अमूल्य उपहार है यह दिमाग और शरीर की एकता का प्रतीक है; मनुष्य और प्रकृति के बीच सामंजस्य है; विचार, संयम और पूर्ति प्रदान करने वाला है तथा स्वास्थ्य और भलाई के लिए एक समग्र दृष्टिकोण को भी प्रदान करने वाला है। यह व्यायाम के बारे में नहीं है, लेकिन अपने भीतर एकता की भावना, दुनिया और प्रकृति की खोज के विषय में है। हमारी बदलती जीवन- शैली में यह चेतना बनकर, हमें जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद कर सकता है। तो आयें एक अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस को गोद लेने की दिशा में काम करते हैं।"

जिसके बाद 21 जून को "अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस" घोषित किया गया। 11 दिसम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र के 177 सदस्यों द्वारा 21 जून को "अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस" को मनाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिली। प्रधानमन्त्री मोदी के इस प्रस्ताव को 90 दिन के अन्दर पूर्ण बहुमत से पारित किया गया, जो संयुक्त राष्ट्र संघ में किसी दिवस प्रस्ताव के लिए सबसे कम समय है।[1]

उत्पत्तिसंपादित करें

औपचारिक व अनौपचारिक योग शिक्षकों और उत्साही लोगों के समूह ने 21 जून के अलावा अन्य तारीखों पर विश्व योग दिवस को विभिन्न कारणों के समर्थन में मनाया।[2] दिसंबर 2011 में, अंतर्राष्ट्रीय मानवतावादी, ध्यान और योग गुरू श्री श्री रविशंकर और अन्य योग गुरुओं ने पुर्तगाली योग परिसंघ के प्रतिनिधि मण्डल का समर्थन किया और दुनिया को एक साथ योग दिवस के रूप में 21 जून को घोषित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र को सुझाव दिया।[3]

भारत के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी की अपील के बाद 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के प्रस्ताव को अमेरिका द्वारा मंजूरी दी, जिसके बाद सर्वप्रथम इसे 21 जून 2015 को पूरे विश्व में विश्व योग दिवस के नाम से मनाया गया।[4][5]

इसके पश्चात 'योग : विश्व शान्ति के लिए एक विज्ञान' नामक सम्मेलन 4 से 5 दिसम्बर 2011 के बीच आयोजित किया गया। यह संयुक्त रूप से लिस्बन, पुर्तगाल के योग संघ, आर्ट ऑफ़ लिविंग फ़ाउण्डेशन और SVYASA योग विश्वविद्यालय, बेंगलूर के द्वारा आयोजित किया गया। जगत गुरु अमृत सूर्यानन्द के अनुसार विश्व योग दिवस का विचार वैसे तो 10 साल पहले आया था लेकिन, यह पहली बार था जब भारत की ओर से योग गुरु इतनी बड़ी संख्या में इस विचार को समर्थन दे रहे थे।[6][7][8] उस दिन श्री श्री रवि शंकर के नेतृत्व में विश्व योग दिवस के रूप में 21 जून को संयुक्त राष्ट्र और यूनेस्को द्वारा घोषित करने के लिए हस्ताक्षर किए गए।[9][10]

निम्नलिखित सदस्य उस सम्मेलन में उपस्थित थे: श्री श्री रवि शंकर, संस्थापक, आर्ट ऑफ़ लिविंग; आदि चुन चुन गिरि मठ के श्री स्वामी बाल गंगाधरनाथ; स्वामी पर्मात्मानन्द, हिन्दू धर्म आचार्य सभा के महासचिव; बीकेएस अयंगर, राममणि आयंगर मेमोरियल योग संस्थान, पुणे; स्वामी रामदेव, पतंजलि योगपीठ, हरिद्वार; डॉ॰ नागेन्द्र, विवेकानन्द योग विश्वविद्यालय, बंगलुरू; जगत गुरु अमृत सूर्यानन्द महा राज, पुर्तगाली योग परिसंघ के अध्यक्ष; अवधूत गुरु दिलीपजी महाराज, विश्व योग समुदाय, सुबोध तिवारी, कैवल्यधाम योग संस्थान के अध्यक्ष; डा डी॰आर कार्तिकेयन, कानून-मानव जिम्मेदारियों व कारपोरेट मामलों के सलाहकार और डॉ॰ रमेश बिजलानी, श्री अरबिन्दो आश्रम, नई दिल्ली।

भक्ति योगसंपादित करें

योग मनुष्य स्वस्थ रखने में साहयता करता है । योग करने से मनुष्य का मन और आत्मा संतुलित रहती है। लेकिन मात्र शरीर को सुडौल बनाने और मन को कुछ क्षणों के लिए नियंत्रण में रखने से मनुष्य का उद्देश्य पूरा नहीं होता। परमात्मा की प्राप्ति भक्ति योग से ही संभव है।[11]

संयुक्त राष्ट्र की घोषणासंपादित करें

इस पहल को कई वैश्विक नेताओं से समर्थन मिला। सबसे पहले, नेपाल के प्रधानमन्त्री श्रीमान सुशील कोइराला ने प्रधानमन्त्री मोदी के प्रस्ताव का समर्थन किया।[12][13] संयुक्त राज्य अमेरिका सहित 177 से अधिक देशों, कनाडा, चीन और मिस्र आदि ने इसका समर्थन किया है।[14][15] "अभी तक हुए किसी भी संयुक्त राष्ट्र महासभा के संकल्प के लिए यह सह प्रायोजकों की सबसे अधिक संख्या है।"[16][17] 11 दिसम्बर 2014 को 193 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र महासभा ने सर्वसम्मति से 'योग के अन्तरराष्ट्रीय दिवस' के रूप में 21 जून को मंजूरी दे दी गयी।

संयुक्त राष्ट्र के घोषणा करने के बाद, श्री श्री रविशंकर ने श्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों की सराहना करते है कहा:

"किसी भी दर्शन, धर्म या संस्कृति के लिए राज्य के संरक्षण के बिना जीवित रहना बहुत मुश्किल है। योग लगभग एक अनाथ की तरह अब तक अस्तित्व में था। अब संयुक्त राष्ट्र द्वारा आधिकारिक मान्यता योग के लाभ को विश्वभर में फैलायेगी।"

[18]

योग के महत्व पर बल देते हुए श्री श्री रवि शंकर ने कहा कि योग आप को फिर से एक बच्चे की तरह बना देता है, जहाँ योग और वेदान्त है वहाँ, कोई कमी, अशुद्धता, अज्ञानता और अन्याय नहीं है। हमें हर किसी के द्वार तक योग को ले जा कर जगत को दुखों से मुक्त कराने की आवश्यकता है।

अन्तरराष्ट्रीय योग दिवससंपादित करें

 
आईएनएस जलाश्व पर योग करते भारतीय नौसेना के जवान, 2015

तैयारियाँसंपादित करें

भारत में पहले अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस (2015) को मनाने के लिए भाजपा के साथ रामदेव ने भी इस आयोजन के लिए खास तैयारियाँ की थी, विश्व योग दिवस को यादगार बनाने और पूरे विश्व को योग के प्रति जागरूक करने के लिए रामदेव ने 35 मिनट का विशेष पैकेज तैयार किया था। [19] [20] 21 जून को अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के सफल होने के साथ ही भारत ने दो विश्व रिकार्ड भी कायम कर लिए हैं। [21]

भारत में 21 जून को अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस बड़े पैमाने पर मनाया गया जिसकी तैयारियाँ बड़े जोर-शोर से सरकार कर रही थी।[22] [23] योग दिवस का मुख्य समारोह दिल्ली के राजपथ पर हुआ जिसमें खुद प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी शिरकत की।[24] प्रधानमन्त्री राजपथ पर लगभग 36,000 लोगों के साथ योग किया।[25] अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर राजपथ के मंच को साझा करने के लिए प्रधानमन्त्री के साथ कुल छह अन्य लोगों को मौका मिला प्रधानमन्त्री कार्यालय ने चार योग गुरु जिसमें योग गुरु बाबा रामदेव, सव्यासा के प्रमुख एच आर नागेन्द्र, श्रीमती हंसाजी जयदेव योगेन्द्र और स्वामी आत्माप्रियनन्दा को शामिल किया गया साथ ही आयुष मन्त्री श्रीपद नाइक और आयुष मन्त्रालय सचिव निलंजन सान्याल के मंच पर बैठने को मंजूरी मिली थी।[26] अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह का गणतंत्र दिवस समारोह जैसा कवरेज दूरदर्शन द्वारा किया गया। इसका सीधा प्रसारण किया गया, प्रसारण अंतरराष्ट्रीय मानक का हो यह सुनिश्चित करने के लिए अत्याधुनिक उपकरण का इस्तेमाल किया गया।[27] प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ राहुल गांधी और अरविन्द केजरीवाल को भी योग दिवस के लिए निमन्त्रण भेजा था।[28] राजनैतिक लोगों के अलावा योग गुरु बाबा रामदेव और बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन को भी न्योता भेजा गया।[29] संयुक्त राष्ट्र में भी योग दिवस मनाने के लिए व्यापक तैयारी की गयीं।[30] पहले अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में विदेश मन्त्री सुषमा स्वराज ने संयुक्त राष्ट्र में आयोजित समारोह की अध्यक्षता की। टाइम्स स्क्वायर से वैश्विक दर्शकों के लिए इसका प्रसारण हुआ।[31] [32]

समारोहसंपादित करें

 
भारत के चिनावल गाँव में एक स्कूल में योग दिवस समारोह

भारतीय प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी और गणमान्य लोगों सहित करीब 36,000 लोगों ने , 21 जून 2015 को नई दिल्ली में पहले अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के लिए 35 मिनट तक 21 योग आसन (योग मुद्राओं) का प्रदर्शन किया। योग दिवस दुनिया भर में लाखों लोगों द्वारा मनाया गया।[33]

राजपथ पर हुए समारोह ने दो गिनीज रिकॉर्ड्स की स्थापना की: सबसे बड़ी योग क्लास 35,985 लोगों के साथ और चौरासी देशों के लोगों द्वारा इस आयोजन में एक साथ भाग लेने का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। इस रिकॉर्ड को आयुष मन्त्री श्रीपद नाइक ने स्वयं ग्रहण किया। [34][35]

अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस 2016संपादित करें

भारत में, आयुष मन्त्रालय ने सभी सरकारी विभागों को एक पात्र जारी करते हुए कहा कि "भारत सरकार ने इस वर्ष के समारोह के दौरान युवाओं की अधिक से अधिक और सक्रिय भागीदारी के साथ योग के अन्तरराष्ट्रीय दिवस, 2015 के द्वारा बनायी गयी गति को आगे ले जाने का निर्णय किया है।।" [36] मन्त्रालय "द नेशन इवेण्ट ऑफ़ मास योगा डेमोंस्ट्रेशन" नामक एक समारोह का अयोजन, चण्डीगढ़ में करेगा जिसमें भारत के प्रधानमन्त्री द्वारा भाग लिया जायेगा।[37]

भारत का स्थायी मिशन संयुक्त राष्ट्र के लिए 20 जून और 21 को संयुक्त राष्ट्र में समारोह का आयोजन करेगा जिसमें "कन्वर्सेशन विद योगा मास्टर्स - योगा फ़ॉर द अचीवमेण्ट ऑफ़ सस्टेनेबल डेवलपमेण्ट गोल्स (एसडीजी)" मुख्य बिन्दु होगा। [38] सदगुरु घटना में मुख्य वक्ता होंगे।

योग दिवस के कार्यक्रम का नेतृत्व करने का उत्तरदायित्व 57 मन्त्रियों को दिया गया है, उनमें गृहमन्त्री राजनाथ सिंह, वित्त मन्त्री अरुण जेटली, रक्षा मन्त्री मनोहर पर्रिकर और स्मृति इरानी शामिल हैं। विशेष यह है कि अरुण जेटली, मुख्तार अब्बास नकवी, निर्मला सीतारमन और मेनका गांधी समेत 10 मन्त्रियों को उत्तर प्रदेश में होने वाले आयोजनों में शामिल होने को कहा गया है।[39]

अमेरिकी राजधानी के कैपिटल हिल से लेकर न्यूयार्क के संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय तक देश के कई शहरों में योग कार्यक्रमों के आयोजन की योजना है।[40]

विवादसंपादित करें

इस दिवस का विवादों में अपना हिस्सा था। सरकार ने 'अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस' के दौरान विवाद से बचने के लिए "सूर्य नमस्कार" व "श्लोक" जप की अनिवार्यता को आधिकारिक योग कार्यक्रम से हटा दिया और मुसलमानों से इस आयोजन में भाग लेने की अपील की। आयुष मन्त्री श्रीपद नाइक ने मुसलमानों से इस कार्यक्रम के दौरान श्लोक के स्थान पर अल्लाह के नाम को पढ़ लेने का सुझाव दिया।[41]

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने सूर्य नमस्कार को पन्थ के विरुद्ध बताते हुए इसका विरोध किया।[41][42] 2021 वर्ष के अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस का सार-वाक्य है- "आरोग्य के लिये योग" ।

चित्रशालासंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "मोदी पलट पाएँगे योग की काया ?". बीबीसी हिन्दी. 12 दिसंबर 2014. अभिगमन तिथि 12 जनवरी 2015.
  2. "मानव अधिकार कारणों के लिए 22 फरवरी को फण्ड जमा किये जायेंगे". मूल से 24 जून 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 जून 2015.
  3. वर्ल्ड टॉयलेट डे है पर वर्ल्ड योगा डे नहीं : रविशंकर Archived 2015-07-11 at the Wayback Machine डीएनएइंडिया
  4. "International Yoga Day Hindi: पुरातन भारत में कैसा था योग का प्रारूप ?". S A NEWS (अंग्रेज़ी में). 2020-06-20. अभिगमन तिथि 2020-06-20.
  5. "International Yoga Day 2020: रोज सुबह करें ये 5 आसान योगासन, दिमाग और शरीर को रखेंगे दुरुस्त". NDTVIndia. मूल से 18 जून 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2020-06-20.
  6. "संग्रहीत प्रति". मूल से 24 जून 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 जून 2015.
  7. महान योग गुरु और अन्य जो विश्व योग दिवस का समर्थन करते हैं Archived 2015-07-01 at the Wayback Machine योगावर्ल्डसटुडे.कॉम
  8. विश्व योग दिवस Archived 2015-07-01 at the Wayback Machine योगावर्ल्डसटुडे.कॉम
  9. "ट्विटर". मूल से 5 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 जून 2015.
  10. योग द्वारा शांति पूर्ण विश्व की ओर Archived 2015-06-22 at the Wayback Machine आर्टऑफ़लिविंग.ओआरजी
  11. "International Yoga Day [Hindi]: पुरातन भारत में कैसा था योग का प्रारूप ?". S A NEWS (अंग्रेज़ी में). 2020-06-20. अभिगमन तिथि 2021-06-21.
  12. गाबर्ड अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का समर्थन करेंगे Archived 2015-09-24 at the Wayback Machine बिज़नसस्टैण्डर्ड.कॉम
  13. "Impressed with Narendra Modi, Barack Obama expresses interest in yoga". मूल से 1 नवंबर 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 जून 2015.
  14. "Modi's call for International Day of Yoga gains pace, 50 nations including China, US support PM's call". मूल से 3 नवंबर 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 जून 2015.
  15. "50 nations, including China and US, back Modi's call for International Yoga Day". मूल से 24 मई 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 जून 2015.
  16. "संग्रहीत प्रति". मूल से 22 जून 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 जून 2015.
  17. "Map of supporting countries". मूल से 24 जून 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 जून 2015.
  18. "संग्रहीत प्रति". मूल से 1 जुलाई 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 जून 2015.
  19. [1] Archived 2015-05-29 at the Wayback Machine दैनिक भास्कर
  20. प्रथम योग दिवस के लिए बीजेपी की महायोजना Archived 2015-06-21 at the Wayback Machine आजतक
  21. भारत ने विश्व योग दिवस पर 2 विश्व रिकॉर्ड बनाये Archived 2015-06-25 at the Wayback Machine दैनिक जागरण
  22. मोदी सरकर योग दिवस को पूरी तैयारी के साथ मनाना चाहती है Archived 2016-03-07 at the Wayback Machine पत्रिका
  23. राष्ट्रीय केंद्र बड़े स्तर पर अगला योग दिवस आयोजित करेगा Archived 2016-03-11 at the Wayback Machineदैनिक जागरण
  24. योग दिवस का कार्यक्रम Archived 2015-06-10 at the Wayback Machine आजतक
  25. पीएम नरेंद्र मोदी राजपथ पर हज़ारों लोगों के साथ योग करेंगे Archived 2015-06-10 at the Wayback Machine ज़ी न्यूज़
  26. चार योग गुरु पीएम मोदी के साथ स्टेज साझा करेंगे Archived 2015-06-19 at the Wayback Machine अमर उजाला
  27. डीडी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का टेलीकास्ट किया जायेगा Archived 2015-06-17 at the Wayback Machine ज़ी न्यूज़
  28. मोदी सरकर ने सोनिया,राहुल और केजरीवाल को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए आमंत्रित किया Archived 2015-06-14 at the Wayback Machineज़ी न्यूज़
  29. पीएम ने योग गुरु रामदेव पर बिग बी को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस का न्योता दिया Archived 2015-06-10 at the Wayback Machine दैनिक जागरण
  30. योग दिवस के जश्न के लिए बहुत बड़ी तैयारियां Archived 2015-06-18 at the Wayback Machine ज़ी न्यूज़
  31. संयुक्त राष्ट्र के योग दिवस के उत्सव को टाइम्स स्क्वायर पर प्रसारित किया जायेगा Archived 2015-06-12 at the Wayback Machine ज़ी न्यूज़
  32. योग दिवस समारोह का टाइम्स स्क्वायर में होगा प्रसारण Archived 2015-06-12 at the Wayback Machine हिंदुस्तान
  33. अंतर्राष्ट्रीय दिवस का इतना बड़ा परिणाम Archived 2015-06-21 at the Wayback Machine न्यूज़रूम24x7.कॉम
  34. अंतर्राष्ट्रीय योद दिवस पर सुषमा स्वराज ने न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र को संबोधित किया Archived 2015-06-22 at the Wayback Machine एनडीटीवी
  35. सबसे बड़ी योग कक्षा Archived 2015-06-22 at the Wayback Machine गिनीज़वर्डरिकार्ड्स.कॉम
  36. "Experts Training Government Staff For Upcoming International Yoga Day". एनडीटीवी. 5 जून 2016. मूल से 11 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 जून 2016.
  37. "PM Modi To Attend International Yoga Day At Chandigarh". एनडीटीवी. 22 मई 2016. मूल से 23 मई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 जून 2016.
  38. "Sadhguru to lead yoga session at UN on 2nd International Yoga Day". द इंडियन एक्सप्रेस. मई 28, 2016. मूल से 2 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि जून 13, 2016.
  39. "योग दिवस के कार्यक्रमों में शामिल होंगे केंद्र सरकार के 57 मंत्री". नवभारत टाइम्स. 19 जून. अभिगमन तिथि 20 जून 2016. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  40. "अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए तैयारी में जुटे अमेरिका के शहर". एनडीटीवी. 18 जून 2016. मूल से 19 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 जून 2016.
  41. मुस्लमान श्लोक के स्थान पर अल्लाह का नाम ले सकते हैं : श्रीपद नाइक Archived 2015-06-14 at the Wayback Machine डीएनएइंडिया.कॉम
  42. "बीबीसी ब्लॉग". मूल से 4 अगस्त 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 17 जुलाई 2015.

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें