अइसिन गियोरो (चीनी: 愛新覺羅, अंग्रेज़ी: Aisin Gioro) उन मान्छु सम्राटों का ख़ानदानी नाम था जिन्होंने चिंग राजवंश के काल में चीन पर राज किया था। अइसिन गियोरो के घराने का राज चीन पर सन् १९११ की शिनहई क्रान्ति तक रहा जिसके बाद चीन एक गणतांत्रिक प्रणाली की तरफ चला गया।

मान्छु लिपि में लिखा 'अइसिन गियोरो'

नाम का विवरणसंपादित करें

मान्छु भाषा में 'अइसिन' शब्द का अर्थ सोना (धातु) होता है। 'गियोरो' मंचूरिया में एक जगह का नाम है। मान्छु रिवाज़ में परिवारों को पहले उनके 'हाला' (यानि क़बीले) के नाम से और फिर उनके 'मुकुन' (यानि नज़दीकी परिवार) के नाम से जाना जाता है। 'अइसिन गियोरो' में 'अइसिन' इस परिवार का 'मुकुन' था और 'गियोरो' उसका 'हाला' था। गियोरो क़बीले में और भी परिवार थे, मसलन 'इरगेन गियोरो' परिवार, 'सुसु गियोरो' परिवार और 'सिरिन गियोरो' परिवार।[1]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. The Manchus Archived 2014-01-12 at the Wayback Machine, Pamela Kyle Crossley, Wiley-Blackwell, 2002, ISBN 978-0-631-23591-0