मुख्य मेनू खोलें

अब्दुल अज़ीज़ (उस्मानी तुर्कीयाई: عبد العزيز / `Abdü’l-`Azīz, तुर्कीयाई : Abdülaziz; 8 फ़रवरी 1830 - 4 जून1876) उस्मानी साम्राज्य के 32वें सुल्तान थे। 25 जून 1861 से 30 मई 1876 तक उनका शासन रहा।[1] वे सुल्तान महमूद द्वितीय के बेटे थे और उनके भाई अब्दुल मजीद के बाद 1861 में उन्होंने तख़्त पर नशीन हुए।[2]

अब्दुल अज़ीज़
عبد العزيز
इस्लाम के ख़लीफ़ा
अमीरुल मुमिनीन
उस्मानी साम्राज्य के सुल्तान
कैसर-ए रूम
ख़ादिम उल हरमैन अश्शरीफ़ैन
नाइट ऑफ़ द गैटर
Sultan Abdulaziz of the Ottoman Empire.jpg
1867 में इंग्लिस्तान का दौरा करते हुए सुल्तान अब्दुल अज़ीज़
32वें उस्मानी सुल्तान (बादशाह)
शासनावधि2 जून 1861साँचा:Snd30 मई 1876
पूर्ववर्तीअब्दुल मजीद प्रथम
उत्तरवर्तीमुराद पंचम
जन्म8 फ़रवरी 1830
क़ुस्तुंतुनिया, उस्मानिया
निधन20-01-1961[1]
चरान महल, क़ुस्तुंतुनिया, उस्मानिया
समाधि
शाही ख़ानदानउस्मानी
पितामहमूद द्वितीय
मातापरतनियाल सुल्तान
धर्मसुन्नी इस्लाम
तुग़राअब्दुल अज़ीज़ عبد العزيز के हस्ताक्षर

उनका जन्म 8 फ़रवरी 1830 को अय्यूब महल, क़ुस्तुंतुनिया (आजकल का इस्तांबुल),[3] में हुआ था, उनकी शिक्षा उस्मानी व्यवस्था के अनुसार हुई लेकिन इसके बावजूद वे पश्चिमी सिक्षा की प्रगतिशील व्यवस्था में रुचि रखते थे। वे पहले सुल्तान थे जिन्होंने पश्चिमी यूरोप का दौरा किया, उन्होंने कई अहमतरीन यूरोपीय राजधानियों (पेरिस, लंदन, वियना, इत्यादि) का दौरा किया।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. “Abdülaziz”। Encyclopædia Britannica (15th) I: A-ak Bayes: 21। (2010)। Chicago, IL: Encyclopædia Britannica Inc.।
  2. Chambers Biographical Dictionary, ISBN 0-550-18022-2, page 2
  3. Britannica, Istanbul: When the Republic of Turkey was founded in 1923, the capital was moved to Ankara, and Constantinople was officially renamed Istanbul in 1930.