अर्णव गोस्वामी

भारतीय पत्रकार और समाचार एंकर

अर्णब गोस्वामी (जन्म : 7 मार्च 1973) एक भारतीय टीवी समाचार प्रस्तोता हैं। वे रिपब्लिक टीवी के प्रबन्ध सम्पादक तथा उसके आधे से अधिक अंश (शेयर) के स्वामी हैं। वे समाचार प्रसारण संघ के अधिशासी परिषद के अध्यक्ष भी हैं।[2]

अर्णब गोस्वामी
Arnab Goswami Times Now.jpg
अर्णब गोस्वामी, 2011
जन्म अर्णब रंजन गोस्वामी[1]
7 मार्च 1973 (1973-03-07) (आयु 47)
गुवाहाटी, असम, भारत
आवास मुंबई, महाराष्ट्र, भारत[कृपया उद्धरण जोड़ें]
शिक्षा हिन्दू कॉलेज (बी ए)
सेन्ट एन्टोनीज कॉलेज, ऑक्सफोर्ड (एम ए)
व्यवसाय
सक्रिय वर्ष 1995–अबतक
जीवनसाथी साम्यब्रत राय गोस्वामी
बच्चे 1

अर्णव गोस्वामी पर भारतीय जनता पार्टी के समर्थन में और हिंदुत्व के पक्ष में कई तरह की स्थितियों के जनमत पत्रकारिता का आरोप लगाया गया है[3][4] - जिसमें सरकारी आख्यानों का राजनीतिक पुनरुत्पादन भी शामिल है, आंकड़ों की आलोचना से बचें सत्तारूढ़ पार्टी (भाजपा), और राजनीतिक विरोधियों को एक नकारात्मक प्रकाश में पेश करती है।[5]

जीवनीसंपादित करें

जन्म और परिवारसंपादित करें

अर्णव गोस्वामी का जन्म असम के गुवाहाटी शहर में 7 मार्च 1973 में हुआ था। वह एक प्रख्यात विधिवेत्ता असमिया परिवार से हैं।[6][7][8]

अर्णब एक सेना के अधिकारी के बेटे हैं इसलिए उन्होने अपनी शिक्षा विभिन्न स्थानों से पूरी की। उन्होने 10वीं कक्षा की बोर्ड की परीक्षा माउण्ट सेण्ट मैरी स्कूल से दी जो दिल्ली छावनी में है और अपनी 12वीं कक्षा उन्होने केन्द्रीय विद्यालय से पूरी की जो जबलपुर छावनी में है। अर्णव ने स्नातक स्तर की पढाई समाज शास्त्र में हिन्दु महाविद्यालय से की जो दिल्ली में है। उन्होंने अपनी मास्टर्स डिग्री सामाजिक नृविज्ञान में ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के सेंट अन्तोनी विश्विधालय (1994) से की । वे सन् 2000 में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के सिडनी ससेक्स कॉलेज के इंटरनेशनल स्टडीज़ विभाग में एक विजि़टिंग फेलो थे । अर्नव गोस्वामी की पत्नी का नाम पिपि गोस्वामी है। उनका एक बेटा भी है।

क्षेत्रसंपादित करें

 
'टाइम्स लिटरेरी कार्निवल' में अर्णव गोस्वामी (2012)

अर्णब ने अपनी जीवन यात्रा की शुरुआत द टेलीग्राफ (कोलकाता) से की, जहाँ पर उन्होनें एक वर्ष समाचार पत्र के संपादक के रूप में काम किया। फिर १९९५ में उन्होने ने 'द टी वी' में काम करना शुरु किया जहाँ पर वह एक दैनिक समाचार के एंकर थे और वह न्यूज़ टुनाईट नामक एक कार्यक्रम की रिपोर्टिंग करते थे। १९९८ में अरनब एन डी टी वी का हिस्सा बन गये। वे 'न्यूज़ ऑर' नामक कार्यक्रम की एंकरिंग करते थे। न्यूज़ ऑर सबसे लंबे समय तक चलने वाला समाचार विश्लेषण है, इतना लम्बा समाचार विश्लेषण किसी भी और चैनल में नहीं दिखाया जाता था (१९९८-२००३)। एनडीटीवी २४ x ७ के वरिष्ठ संपादक होने के कारण वह पूरे चैनल के प्रकरण के संपादन के जिम्मेदार थे।

एनडीटीवी के समाचार संपादक के रूप में प्रमुख टीम का हिस्सा रहे और 1998 से 2003 के बीच 'न्यूजआवर' का संचालन किया। फिर एनडीटीवी में उन्हें वरिष्ठ संपादक बनाया गया और वर्ष 2006 में टाइम्स नाऊ में जाने से पहले वह इसी पद पर काम करते रहे। उन्हें संपादकीय निदेशक और प्रधान संपादक से प्रोन्नत कर टाइम्स नाऊ और ईटी नाऊ का प्रेसिडेंट-न्यूज और प्रधान संपादक बनाया गया।

उन्होनें कुछ किताबे भी लिखी हैं जैसे कोमपेटीबल टेरिरिज्म, द लीगल चेलेंज आदि।

 
मुंबई में आयोजित विकिपीडिया कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए अर्णब गोस्वामी

विवादसंपादित करें

नवम्बर 2020 में मुंबई पुलिस ने गोस्वामी को अन्वय नायक के आत्महत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।[9][10]बाद में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा उन्हें जमानत पर मुक्त किया गया था।

पुरस्कार व सम्मानसंपादित करें

  • ८ दिसम्बर २०१९ को वे न्यूज ब्रॉडकास्टिंग फेडरेशन के सर्वसम्मत अध्यक्ष चुने गए। इस फेडरेशन में ७८ चैनेलों का प्रतिनिधित्व है और यह NBSA का स्थान लेना चाहता है।[12][13][14]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Ranjan Goswami, Arnab (28 January 2017). "Arnab's full signed letter". Twitter (from handle of @swamy39).
  2. Staff, Scroll. "Arnab Goswami elected president of News Broadcasters Federation's governing board". Scroll.in. Retrieved 29 December 2019.
  3. Verma, Ramit (29 October 2019). "Peeing Human is waging a war on 'Modia'. Here's how, and why". Newslaundry.
  4. "Times Now left embarrassed: Arnab Goswami rapped by NBSA, channel fined Rs 50,000 for reporting in biased manner in Jalseen Kaur eve-teasing case". अभिगमन तिथि 13 July 2016.
  5. Venkataramakrishnan, Shoaib Daniyal & Rohan. "'Proud of all my partners': Arnab Goswami when asked about BJP influence in new venture". Scroll.in (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 14 November 2019.
  6. "Interview in News time Assam". NEWS TIME ASSAM.
  7. "He is the best known Assamese face in the world". www.mxmindia.com. अभिगमन तिथि 2012. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  8. "The Soil Beckons". outlookindia.com. अभिगमन तिथि 4 August 2011.
  9. "Republic TV Editor Arnab Goswami Arrested by Mumbai Police in 2018 Abetment to Suicide Case". News18 (अंग्रेज़ी में). 2020-11-04. अभिगमन तिथि 2020-11-04.
  10. "Republic TV Chief Arnab Goswami Arrested; Top BJP Ministers Cry Foul". HuffPost India (अंग्रेज़ी में). 2020-11-04. अभिगमन तिथि 2020-11-04.
  11. "Rng Past Awards". rngfoundation.com. अभिगमन तिथि 11 December 2019.
  12. "Arnab Goswami elected president of News Broadcasters Federation's governing board". Scroll.in (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 29 December 2019.
  13. "News Broadcasters Federation elects Arnab Goswami as governing board president". The Hindu (अंग्रेज़ी में). PTI. 8 December 2019. आइ॰एस॰एस॰एन॰ 0971-751X. अभिगमन तिथि 29 December 2019.सीएस1 रखरखाव: अन्य (link)
  14. Seshu, Geeta (31 July 2019). "No, Republic TV-led News Broadcasters Federation is not fighting 'Lutyens Media'". Newslaundry. अभिगमन तिथि 9 January 2020.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें