मुख्य मेनू खोलें

आवारा बाप 1985 में बनी हिन्दी भाषा की फ़िल्म है। राजेश खन्ना और मीनाक्षी शेषाद्रि मुख्य भूमिकाओं में है। मीनाक्षी ने दो भूमिका निभाई और ये माधुरी दीक्षित की दूसरी फिल्म है। फिल्म बहुत बुरी तरह पिटी थी लेकिन इसके गीत अपनी मधुरता के कारण प्रसिद्ध हैं।

आवारा बाप
आवारा बाप.jpg
आवारा बाप का पोस्टर
निर्देशक सोहनलाल कंवर
लेखक राम केलकर
अभिनेता राजेश खन्ना,
मीनाक्षी शेषाद्रि,
माधुरी दीक्षित
संगीतकार आर॰ डी॰ बर्मन
प्रदर्शन तिथि(याँ) 29 नवंबर, 1985
देश भारत
भाषा हिन्दी

संक्षेपसंपादित करें

यह फिल्म एक अमीर आदमी और उसके बेटे के जीवन के चारों ओर घूमती है, जहां बेटा उसकी पत्नी के साथ खुशी से रहता है। लेकिन एक बच्चे को जन्म देने के बाद उसकी पत्नी मर जाती है। कहानी एक मोड़ लेती है जब वह किसी और महिला के लिए प्यार करना शुरू कर देता है।

राज अमीर आदमी सेठ गोपाल दास का एकमात्र पुत्र है। उसके बचपन और किशोरावस्था के वर्ष बहुत अकेले थे क्योंकि उसकी मां की मृत्यु हो गई थी जब वह एक बच्चा था। राज अपनी वयस्कता में पीना शुरू कर देता है और धीरे-धीरे अपने पिता से खुद को दूर करता है। राज एक महल से बंगले में रहना शुरू कर देता है, उसी शहर में जहां सेठ गोपाल दास का निवास है। राज कभी-कभी निवास आता है, मुख्य बंगला जहां सेठ गोपाल दास रहता है। एक बर्फीली पहाड़ की यात्रा पर, राज को रूपा नाम की एक लड़की से मिलना पड़ता है। वह रुपा को देह व्यापार में प्रवेश करने से बचाता है। फिर वह उसे उसके घर छोड़ने का फैसला करता है, लेकिन सड़कों की बुरी स्थिति के कारण उसे उसके साथ कुटीर में रहने के लिए मजबूर होना पड़ता है। जैसे ही मौसम ठंडा हो जाता है, राज को ठंड लग जाती है और उसकी रक्षा करने के लिये रूपा अपने मुंह से उसको हवा देने का फैसला करती है और उसे गले लगाती है। ऐसा करके, वह उसे पुनर्जीवित करने का प्रबंधन करती है। सुबह में, राज कहता है कि उसे रात में अपने कल्याण के लिए ऐसी कोई चीज़ नहीं करनी चाहिए थी। रूपा कहती हैं, वह आभारी थी क्योंकि उसने उसे अपना शरीर को बेचने के लिए मजबूर होने से बचाया था, इसलिए उसने अंततः जो किया वह करने में उसे कोई फर्क नहीं पड़ता।

मुख्य कलाकारसंपादित करें

संगीतसंपादित करें

सभी आर॰ डी॰ बर्मन द्वारा संगीतबद्ध।

क्र॰शीर्षकगीतकारगायकअवधि
1."दिल के दुश्मन पे दिल आया"एम॰ जी॰ हाशमतआशा भोंसले5:44
2."ना होती दोस्ती तुमसे"एम॰ जी॰ हाशमतसुरेश वाडकर, अनुराधा पौडवाल5:19
3."तेरी उमर पचास या पचपन की करें"वर्मा मलिककिशोर कुमार, अमित कुमार5:41
4."आवारा बाप हूँ"एम॰ जी॰ हाशमतकिशोर कुमार5:04
5."कोरी कोरी गागर सी जवानी"विश्वेश्वर शर्माआशा भोंसले4:54
6."उमर सारी हमारी तुम्हें सौंप दी"विश्वेश्वर शर्माआशा भोंसले, अमित कुमार7:01
7."जमुना के जल में"एम॰ जी॰ हाशमतकिशोर कुमार5:26
8."आवारा बाप हूँ" (II)एम॰ जी॰ हाशमतकिशोर कुमार5:27

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें