मुख्य मेनू खोलें


इरीडियम / Iridium
रासायनिक तत्व
Ir,77.jpg
नमूना
रासायनिक चिन्ह: Ir
परमाणु संख्या: 77
रासायनिक शृंखला: संक्रमण धातु
Ir-TableImage.svg
आवर्त सारणी में स्थिति
Electron shell 077 Iridium.svg
इलेक्ट्रॉनिक ढांचा
अन्य भाषाओं में नाम: Iridium (अंग्रेज़ी)

इरीडियम (Iridium) एक रासायनिक तत्त्व है।

परिचयसंपादित करें

इरीडियम (संकेत: Ir, परमाणु भार: १९१ ; परमाणु संख्या: ७७) धातुओं के प्लैटिनम समूह का एक सदस्य हैं। सबसे पहले तेंना ने १८०४ में ऑस्मीइरीडियम नामक मिश्रण से इसको प्राप्त किया। यह बहुत ही कठोर धातु है, लगभग २,४५० डिग्री सेंटीग्रेड पर पिघलती है और इसका आपेक्षिक घनत्व २२.४ है। इसका विशिष्ट विद्युतीय प्रतिरोध ४.९ है जो प्लैटिनम का लगभग आधा है। इससे तार, चादर इत्यादि बनाना बड़ा ही कठिन है। रासायनिक अभिक्रिया में यह धातुओं में सबसे अधिक अक्रियाशील है, यहाँ तक कि अम्लराज भी साधारण ताप पर इसपर क्रिया करने में असफल रहता है।

इरीडियम फाउंटेन पेन की निबों की नोंक, आभूषण, चुंबकीय संपर्क स्थापित करनेवाले यंत्र, पोली सुई (इंजेक्शन लगाने की सुई) तथा बहुत ही बारीक फ्यूज़ तार बनाने में काम आता है।

इरीडियम बहुत से यौगिक बनाता है, जिनमें १, २, ३, ४ तथा ६ तक संयोजकता होती है। इसमें जटिल यौगिक बनाने की भी प्रवृत्ति पाई जाती है। यह दूसरी धातुओं से मिलकर, विशेषकर प्लैटिनम के साथ, बड़ी सुगमता से मिश्रधातु बनाता है। ये मिश्रधातुएँ बड़ी कठोर होती हैं

सन्दर्भसंपादित करें