उत्तरा बाओकर

भारतीय अभिनेत्री

उत्तरा बाओकर एक भारतीय मंच, फिल्म और टेलीविजन अभिनेत्री है। वह मुख्यमंत्री में पद्मावती के रूप में, मेना गुरजारी में मेना, के रूप में शेक्सपियर की ओथेलो में डेस्डेमोना के रूप में, गिरीश कर्नाड के तुगलक में मां, छोटे सैयद बड़े सैयद में नर्तकी महिला के रूप में और उमराव जान में एक प्रमुख भूमिका में एसे कई तरह के उल्लेखनीय नाटकों ओर फिल्मो में अभिनय किया। [1] 1978 में जयवंत दलवी के नाटक संध्या छैया का कुसुम कुमार द्वारा हिंदी अनुवाद का उन्होंने निर्देशन भी किया। [2]

उत्तरा बाओकर
[[Image:
Director, Unni Vijayan Producer Prince Thampi at the presentation of film " Lesson in Forgetting", at the 43rd International Film Festival of India (IFFI-2012), in Panaji, Goa on November 25, 2012.jpg
|225px]]
बाओकर (दाए) आईएफएफआई 2012
जन्म 17 मई 1944 (1944-05-17) (आयु 76)
सांगली
व्यवसाय अभिनेत्री

1984 में, उन्होंने संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार जीता, जो हिंदी रंगमंच के लिये भारत का राष्ट्रीय अभिनय अकादमी है। [3] वह कई मराठी फिल्मों में दिखाई दिया है जेसे दोघि (1995) मे सदाशिव अमरापुरकर और रेणुका दाफ्तारदार, के साथ उत्तरायण (2005), शेवरी (2006) और रेस्तरां (2006) सोनाली कुलकर्णी के साथ। [4] एक दिन अचानक फिल्म में उनके प्रदर्शन के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ सह अभिनेत्री के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इस फिल्म का निर्देशन मृणाल सेन ने किया था। इस फिल्म में, उन्हें शबाना आज़मी श्रीराम लागू और अपर्णा सेन जैसे कलाकार के साथ काम करने का मौका मिला। [5][6] उत्तरा बावका भारत में एक वरिष्ठ रंगमंच व्यक्तित्व है। हाल ही में वह भोपाल के प्रतिष्ठित एमपी स्कूल ऑफ ड्रामा में ड्रामा क्लास लेने भोपाल गए। उन्होंने ड्रामा स्कूल में बच्चों के साथ एक आपसी चर्चा का आयोजन किया। उन्होंने तब मीडिया से कहा, "भोपाल एक समृद्ध सांस्कृतिक शहर है जहाँ बहुत सारी प्रतिभाएँ पाई जा सकती हैं। आप इसे भारत की सांस्कृतिक राजधानी भी कह सकते हैं।" [7]

प्रारंभिक जीवन और शिक्षासंपादित करें

उत्तरा का जन्म 17 मई 1944 को महाराष्ट्र के सांगली में हुआ था। उत्तरा ने नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा (एन एस डी), दिल्ली में एब्राहिम अल्काज़ी के अधीन अभिनय किया, [8] उन्होंने 1968 में स्नातक की पढ़ाई पुरी की। [9]


व्यक्तिगत जीवनसंपादित करें

उत्तरा ने शादी नहीं की। इस बारे में बोलते हुए, उन्होंने कहा, "यह कभी नहीं हुआ की मुझे शादीशुदा जीवन की कमी महसूस ना हुई हो। क्योंकि मेरे दोनों लिंगों के कई दोस्त हैं। शादी और मातृत्व का अनुभव नहीं होने के बारे में कई बातें कही जा सकती हैं, जो पहले किसी ने अनुभव नहीं की।" । यह मुझे एक मनुष्य या एक अभिनेत्री के रूप में अपूर्ण नहीं बनाता है "[10]


फिल्मोग्राफीसंपादित करें

पुरस्कारसंपादित करें

टिप्पणियाँसंपादित करें

  1. "Of days that were..." The Hindu. 30 Jun 2005. मूल से 6 नवंबर 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2020.
  2. "Those lonely sunset days". The Hindu. 23 April 2010. मूल से 12 मार्च 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2020.
  3. "SNA: List of Akademi Awardees". Sangeet Natak Akademi Official website. मूल से 17 February 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 17 February 2012.
  4. "Marathi cinema gets the sensitive and intelligent film-lover". The Economic Times. 3 May 2008. मूल से 30 जून 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2020.
  5. साँचा:Web excerpt
  6. "संग्रहीत प्रति". मूल से 2 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2020.
  7. "संग्रहीत प्रति". मूल से 27 मार्च 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2020.
  8. "Theatre is revelation". The Hindu. 24 February 2008. मूल से 5 नवंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2020.
  9. "Alumni List For The Year 1968". National School of Drama Official website. मूल से 6 दिसंबर 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2020.
  10. "संग्रहीत प्रति". मूल से 21 दिसंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2020.
  11. K. Moti Gokulsing; Wimal Dissanayake (17 April 2013). Routledge Handbook of Indian Cinemas. Routledge. पपृ॰ 77–. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-136-77284-9. मूल से 3 जनवरी 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 May 2013.
  12. Filmography

संदर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें