मुख्य मेनू खोलें

केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) भारत के केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों में सबसे बड़ा है। यह भारत सरकार के गृह मंत्रालय के तहत काम करता है। सीआरपीएफ की प्राथमिक भूमिका पुलिस कार्रवाई में राज्य / संघ शासित प्रदेशों की सहायता, कानून-व्यवस्था और आतंकवाद विरोध में निहित है। यह क्राउन प्रतिनिधि पुलिस के रूप में 27 जुलाई 1939 को अस्तित्व में आया। भारतीय स्वतंत्रता के बाद यह 28 दिसंबर 1949 को सीआरपीएफ अधिनियम के लागू होने पर केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल बन गया।[1]

केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल
प्रचलित नाम सीआरपीएफ
लघुनाम सीआरपीएफ
आदर्श वाक्य सेवा और निष्ठा
संस्था जानकारी
स्थापना 27 जुलाई, 1939
वैधानिक वयक्तित्व गैर सरकारी: केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल
अधिकार क्षेत्र
संघीय संस्था IN
शासी निकाय गृह मंत्रालय
गठन घटक केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल अधिनियम , 1949
सामान्य प्रकृति
प्रचालन ढांचा
मुख्यालय नयी दिल्ली, भारत
मंत्री responsible श्री अमित शाह, केन्द्रीय गृह मंत्री
संस्था कार्यपालक राजीव राय भटनागर , आई पी एस, महानिर्देशक, सी आर पी एफ़
मातृ संस्था केन्द्रीय सैन्य पुलिस बल
Child agency कोबरा
सेक्टरयां 10
जालस्थल
crpf.gov.in

230 बटालियनों और विभिन्न अन्य प्रतिष्ठानों के साथ, सीआरपीएफ भारत का सबसे बड़ा अर्धसैनिक बल माना जाता है।[2]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें