मुख्य मेनू खोलें

गोवरो (Gowro, گوورو), जिसे गाबरो भी कहते हैं, कोहिस्तानी उपशाखा की एक दार्दी भाषा है जो पाकिस्तान के ख़ैबर​-पख़्तूनख़्वा प्रान्त के कोहिस्तान ज़िले में बोली जाती है। यह इस जिले के कोलाई नामक क्षेत्र में महरीन गाँव में बोली जाती है। इसके ६५% शब्द चीलीस्सो भाषा से, ६५% सिन्धु कोहिस्तानी भाषा से, ६०% बटेरी भाषा से और ४०% शीना भाषा से मिलते-जुलते हैं।[1]

गोवरो
बोलने का  स्थान पाकिस्तान
क्षेत्र कोहिस्तान ज़िला
मातृभाषी वक्ता २०० (१९९०)
भाषा परिवार
भाषा कोड
आइएसओ 639-3 gwf
गावरी भाषा के लिए (जिसे कालामी भाषा भी कहते हैं) कालामी भाषा का पन्ना देखिये

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Gowro, from Ethnologue: Languages of the World, fifteenth edition. SIL International.