मुख्य मेनू खोलें

मोटे अक्षरराष्ट्रीय राजमार्ग 103 पर स्थित यह कस्बा बिहार प्रांत के वैशाली जिले में पड़ता है। राघोपुर विधान सभा क्षेत्र के सीमा पर स्थित इस गाँव की आबादी २००१ की जनगणना के अनुसार 1902 है जिसमें 963 पुरूष और 939 स्त्रियाँ हैं। गोविन्दपुर झखराहा, दोबरकोठी, चकजैनब और श्यामपुर उर्फ मंसूरपुर इसके पड़ोसी गाँव हैं। चकसिकन्दर बाजार अपने और पास के गाँव के निवासियों का स्थानीय बाजार भी है। गाँव को विद्युतीकृत किया जा चुका है लेकिन बिजली के लिए अक्सर उपभोक्ताओं को निजी साघनों पर निर्भर होना पड़ता है। शिक्षा के लिए चकसिकन्दर में प्राथमिक, मध्य विद्यालय तथा उच्च विद्यालय के अतिरिक्त मदरसा भी है।

    • यातायात एवं संचार सेवाएँ**

जिला तथा अनुमंडल मुख्यालय हाजीपुर तथा प्रखंड मुख्यालय बिदुपुर के अतिरिक्त जन्दाहा होते हुए समस्तीपुर जाने के लिए दैनिक सवारी यहाँ से उपलब्ध है। चकसिकन्दर पूर्व मध्य रेलवे के हाजीपुर-बरौनी रेलखंड पर स्थित रेलवे स्टेशन है। यहाँ पाँच जोड़ी सवारी गाड़ियों का ठहराव होता है। रेलवे स्टेशन के पास स्थित गाँव चकजैनब, कल्याणपुर (दूरी 1 किलोमीटर), दोबर कोठी (दूरी 1 किलोमीटर), गंगाजल (दूरी 1.5 किलोमीटर), गोविन्दपुर झखराहा (दूरी 1.5 किलोमीटर) आदि है जहाँ से आकर यात्री नियमित आवागमन करते हैं। चकसिकन्दर आने-जाने वाली गाड़ियों की जानकारी इंडियारेलइन्फो डॉट काम पर मिल सकती है। दूरभाष संचार के लिए बीएसएनएल का मोबाईल तथा लैंडलाइन सेवा के अतिरिक्त एयरटेल, रिलाएंस तथा एयरसेल का अच्छा मोबाईल नेटवर्क मौजूद है। डाक सेवाओं के लिए चकसिकन्दर बाजार में अवर डाकघर (पिन कोड- ८४४११५) है, जहाँ डाक बचत योजनाएं एवं बैंकिंग सेवाएँ मिल जाती है। बैंकिंग सेवाओं के लिए वैशाली क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक है जो सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के अधीन कार्यरत है।