मुख्य मेनू खोलें

चुम्बी घाटी

तिब्बत के शिगात्से विभाग में स्थित एक घाटी
चुम्बी वादी का १९३८ में खींचा गया एक चित्र

चुम्बी घाटी तिब्बत के शिगात्से विभाग में स्थित एक घाटी है। यह उस स्थान पर स्थित है जहाँ भारत के सिक्किम राज्य, भूटान और तिब्बत तीनों की सीमाएँ मिलती हैं।[1] हालांकि तिब्बत एक ठंडा प्रदेश है, चुम्बी वादी में गर्मियों में मौसम अच्छा होता है और स्थानीय वनस्पतियों में बहुत फूल आते हैं। कूटनीतिक दृष्टि से ३,००० मीटर पर स्थित चुम्बी घाटी का बहुत महत्व रहा है क्योंकि भारत पर तिब्बत से आक्रमण करने का यह एक आसान मार्ग है। १९०४ में भारत की ब्रिटिश सरकार ने तिब्बत पर चढ़ाई करके चुम्बी पर नौ महीने का क़ब्ज़ा कर लिया था। ब्रिटिश सरकार के अन्दर चुम्बी को औपचारिक रूप से भारत का भाग बनाने के लिये काफ़ी खीचातानी चली लेकिन अन्त में इसे तिब्बती सरकार के हवाले कर दिया गया।[2] भारत और तिब्बत के बीच के दो महत्वपूर्ण पहाड़ी दर्रे - नाथू ला और जेलेप ला - के एक तरफ़ के मुख चुम्बी वादी में ही खुलते हैं। १९५० के दशक में जनवादी गणतंत्र चीन ने तिब्बत पर क़ब्ज़ा कर लिया और १९९० के बाद नाथू दर्रे और जेलेप दर्रे तक चौड़ी सड़कें बना दी जिस से भारतीय समीक्षकों के अनुसार भविष्य में युद्धस्थिति में यहाँ के रास्ते चीनी सेनाएँ तीव्रता से भारत पर धावा बोल सकती हैं।[3]

चुंबीघाटी हिमालय की दक्षिणी ढालों पर समुद्रतट से ९,५०० फुट ऊँची यह घाटी (क्षेत्रफल ७०० वर्ग मील) भारत को तिब्बत से मिलाती है। इसके पूर्व में भूटान और पश्चिम में सिक्किम हैं। यद्यपि राजनीतिक रूप में यह पहले तिब्बत के और अब चीन के आधिपत्य में है, तथापि भौगोलिक दृष्टि से इसे भारत का अंग हाना चाहिए। इसी मार्ग से १९०४ ई. में ब्रिटिश मिशन गया था। यह उत्तर-उत्तर-पूर्व में दांग्ला (Tang-la) दर्रे तक फैली है। इस घाटी में तोरसा नदी बहती है और इसी नद के द्वारा बने छोटे छोटे समतल क्षेत्रों में जो, गेहूँ और तरकारियों की खेती होती है। आमो चू नदी पर चुंबी घाटी का प्रसिद्ध नगर चुंबी बसा है, जिसके ५४ किमी दक्षिण-पश्चिम कालिंपाँग स्थित है। वर्तमान भारत-चीन संघर्ष की दृष्टि से इस घाटी का सैनिक महत्व बढ़ गया है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "PHOTOS: इतनी खूबसूरत है चुंबी घाटी, जिस पर है चीन की नापाक नजर".
  2. Tibet and the British Raj: The Frontier Cadre, 1904-1947, Alex McKay, pp. 40, Psychology Press, 1997, ISBN 9780700706273, ... The British, however, still controlled the administration of the Chumbi Valley. The Chumbi was of great strategic importance because it was the only route by which an invasion of India from Tibet could realistically be carried out by modern troops ...
  3. China's Shadow Over Sikkim: The Politics of Intimidation, G. S. Bajpai, pp. 7, Lancer Publishers, 1999, ISBN 9781897829523, ... Since good roads have also been constructed by the Chinese leading to important Nathu La and Jelep La passes, this axis offers an easy route of thrust from the Chumbi Valley of Tibet to India ...