मुख्य मेनू खोलें

जामा मस्जिद का निर्माण सन् 1656 में सम्राट शाहजहां ने किया था। यह पुरानी दिल्ली में स्थित है।

जामा मस्जिद
New Delhi Jama Masjid.jpg
दिल्ली की जामा मस्जिद
धर्म संबंधी जानकारी
सम्बद्धताइस्लाम
डिस्ट्रिक्टमध्य दिल्ली
चर्च या संगठनात्मक स्थितिमस्जिद
अवस्थिति जानकारी
अवस्थितिभारत दिल्ली, भारत
राज्यक्षेत्रदिल्ली
भौगोलिक निर्देशांक28°39′3″N 77°13′59″E / 28.65083°N 77.23306°E / 28.65083; 77.23306निर्देशांक: 28°39′3″N 77°13′59″E / 28.65083°N 77.23306°E / 28.65083; 77.23306
वास्तु विवरण
प्रकारMosque
शैलीइस्लामी,
निर्माण पूर्ण1656
आयाम विवरण
क्षमता25,000
लम्बाई80 m
चौड़ाई27 m
गुंबद3
मीनारें2
मीनार ऊँचाई41 m
जामा मस्जिद, दिल्ली (कॉमन्स पर निर्वाचित चित्र)

यह मस्जिद लाल और संगमरमर के पत्थरों का बना हुआ है। लाल किले से महज 500 मी. की दूरी पर जामा मस्जिद स्थित है जो भारत की सबसे बड़ी मस्जिद है। इस मस्जिद का निर्माण 1650 में शाहजहां ने शुरु करवाया था। इसे बनने में 6 वर्ष का समय और 10 लाख रु.लगे थे। बलुआ पत्थर और सफेद संगमरमर से निर्मित इस मस्जिद में उत्तर और दक्षिण द्वारों से प्रवेश किया जा सकता है।

पूर्वी द्वार केवल शुक्रवार को ही खुलता है। इसके बारे में कहा जाता है कि सुल्तान इसी द्वार का प्रयोग करते थे। इसका प्रार्थना गृह बहुत ही सुंदर है। इसमें ग्यारह मेहराब हैं जिसमें बीच वाला महराब अन्य से कुछ बड़ा है। इसके ऊपर बने गुंबदों को सफेद और काले संगमरमर से सजाया गया है जो निजामुद्दीन दरगाह की याद दिलाते हैं।

जामा मस्जिद, दिल्ली, 1852.

दानसंपादित करें

1948 के दौरान, हैदराबाद के निज़ाम मीर उस्मान अली खान को मस्जिद के ¼ मंज़िल की मरम्मत के लिए ₹ 75,000 का दान देने के लिए अनुरोध किया गया था। इसके बजाय निज़ाम ने ₹3लाख स्वीकृत किया, यह बताते हुए कि मस्जिद के बाकी 3/४ पुराना नहीं दिखना चाहिए।[1][2]

 
जामा मस्जिद का उत्तर पूर्वी प्रवॆश द्वार, व उसकी सीढ़ियां[3].
 
जामा मस्जिद की मीनार से गुम्बद का दृश्य


चित्र दीर्घासंपादित करें

जामा मस्जिद के इमामसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

टिप्पणीसंपादित करें

  1. "Ala Hazrat in retrospect".
  2. "'The last Nizam of Hyderabad was not a miser'".
  3. Paul La Porte

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें