जैसी करनी वैसी भरनी

1989 की हिन्दी फ़िल्म

जैसी करनी वैसी भरनी 1989 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इस फिल्म में गोविन्दा, कादर ख़ान, शक्ति कपूर और किमी काटकर मुख्य भूमिकाओं में है।

जैसी करनी वैसी भरनी
जैसी करनी वैसी भरनी.jpg
जैसी करनी वैसी भरनी का पोस्टर
निर्देशक विमल कुमार
निर्माता विमल कुमार
लेखक कादर ख़ान (संवाद)
अभिनेता गोविन्दा,
किमी काटकर,
कादर ख़ान,
असरानी,
शक्ति कपूर,
गुलशन ग्रोवर,
शोमा आनन्द
संगीतकार राजेश रोशन
प्रदर्शन तिथि(याँ) 2 जून, 1989
देश भारत
भाषा हिन्दी

संक्षेपसंपादित करें

गंगाराम वर्मा ने स्थानीय नगर पालिका के लिए कई सालों तक काम किया है और वह ईमानदार होने के लिए समुदाय में जाना जाता है। ठेकेदारों ने उसे रिश्वत देने के कई प्रयास किये लेकिन सब व्यर्थ रहे हैं। ठेकेदार प्रेम कुमार गंगाराम को एक सबक सिखाने का फैसला करता है। वह गंगाराम के एकमात्र बेटे विजय को अपने कार्यालय में रखता है और बाद में उसकी अपनी एकमात्र बेटी सपना से शादी करा देता है। तीनों ने गंगाराम का भरोसा जीतने की योजना बनाई है और ऐसा करने पर उन्होंने गंगाराम और उसकी पत्नी लक्ष्मी को बेघर छोड़कर उनकी संपत्ति हथिया ली। विजय और सपना अपने बेटे रवि को लाते हैं और उसे बताते हैं कि उसके दादा दादी मर चुके हैं। साल बीतते हैं, फिर एक दिन रवि एक आदमी के पास आता है जो उसके दादा जैसा दिखता है। वह घर तक उनका पीछा करता है और उनके होंठों से सच्चाई सुनता है। रवि अपने माता-पिता को सबक सिखाने का फैसला करता है और उनसे वैसा ही व्यवहार करने का फैसला करता है जैसा उन्होंने उसके दादा दादी के साथ किया था। उसकी प्रेमिका राधा भी उसमें साथ देती है।

मुख्य कलाकारसंपादित करें

संगीतसंपादित करें

संगीतकार - राजेश रोशन
गीतकार - इन्दीवर
# शीर्षक गायक
1 "आज कल के बच्चे भी" शब्बीर कुमार, राम कुमार, जयश्री शिवराम
2 "आजा आ खेलें गेम कोई" कुमार सानु, सपना मुखर्जी
3 "आया आया यार का सलाम" मोहम्मद अज़ीज़, साधना सरगम
4 "जैसी करनी वैसी भरनी" नितिन मुकेश
5 "जैसी करनी वैसी भरनी" (उदास) नितिन मुकेश
6 "जैसी करनी वैसी भरनी" साधना सरगम
7 "जैसी करनी वैसी भरनी" (उदास) साधना सरगम
8 "महके हुए तेरे लब के गुलाब" मोहम्मद अज़ीज़, साधना सरगम

==सन्दर

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें