तनख़ यहूदियों का मुख्य धार्मिक ग्रन्थ है। इसकी रचना 600 से 100 ईसा पूर्व के समय में विभिन्न लेखकों द्वारा विभिन्न देशों में की गई है। असल में तनख़ तीन अलग अलग शास्त्रों का संकलन है। जो कि प्राचीन यहूदी परम्परा का आधार हैं। अतः तनख़ के तीन भाग हैं-

तौरात:- इसमें पांच किताबों को शामिल किया गया है। जिनकी रचना हजरत मूसा ने की थी। ये पांचों किताबें ही यहूदी परम्परा की नींव हैं।

नवीम:- इसमें पैगम्बर या नबियों की किताबें शामिल हैं, जिनकी संख्या आठ है।

केतविम:- इसमें ईश्वर की आराधना व भविष्यवाणियों की ग्यारह रचनाएं शामिल हैं।

ईसाई धर्मग्रन्थ बाइबिल का प्रथम भाग तनख़ का ही संस्करण है।