दोड्डबेट्ट भारत के पश्चिमी घाट की पर्वतमाला का एक पर्वत है। यह तमिलनाडु राज्य के नीलगिरि जिले में नीलगिरि पर्वत की सबसे ऊँची तथा हिमालय के दक्षिण में स्थित सभी पर्वतों से ऊँची चोटी है। यह चोटी समुद्र तल से 2637 मीटर ऊपर है। घाटियों में इसी ढालों पर सिनकोना के सरकारी बागान हैं। इसकी चोटी पर मौसम विज्ञान वेधशाला भी है। यह चोटी ऊटी से केवल 10 किलोमीटर दूर है इसलिए यहां आसानी से पहुंचा जा सकता है। यहां से घाटी का नजारा अदभुत दिखाई पड़ता है। लोगों का कहना है कि जब मौसम साफ होता है तब यहां से दूर के इलाके भी दिखाई देते हैं जिनमें कोयंबटूर के मैदानी इलाके भी शामिल हैं।

दोड्डबेट्ट
Doddabettateles.jpg
चोटी पर मौजूद दूरबीन घर
उच्चतम बिंदु
ऊँचाई2,637 मी॰ (8,652 फीट) [1]
उदग्रता2,256 मी॰ (7,402 फीट) [1]
सूचीयनअल्ट्रा
निर्देशांक11°24′08.7″N 76°44′12.2″E / 11.402417°N 76.736722°E / 11.402417; 76.736722निर्देशांक: 11°24′08.7″N 76°44′12.2″E / 11.402417°N 76.736722°E / 11.402417; 76.736722[1]
भूगोल
दोड्डबेट्ट की तमिलनाडु के मानचित्र पर अवस्थिति
दोड्डबेट्ट
दोड्डबेट्ट
तमिलनाडु में अवस्थिति
स्थानउदगमंडलम, नीलगिरि जिला, तमिलनाडु, भारत
मातृ श्रेणीनीलगिरि
आरोहण
सरलतम मार्गदोड्डबेट्ट मार्ग
नीलगिरी पर्वत, डोड्डाबेट्टा से

यह ऊटी से ४ किमी पूर्व-पूर्वोत्तर में,11°24′10″N 76°44′14″E / 11.40278°N 76.73722°E / 11.40278; 76.73722 (Doddabetta Peak), है। इसकी ऊंचाई 2,637 मीटर (8,652 फीट) है। इसके बाद धेक्यूबा (ऊंचाई: 2,375 मीटर (7,792 फीट)), कट्टडाडू (ऊंचाई: 2,418 मीटर (7,933 फीट)) एवं कुलकुडी (ऊंचाई: 2,439 मीटर (8,002 फीट)) डोडाबेट्टा से निकटता से जुड़ी अन्य चोटियां हैं।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Southern Indian Subcontinent: 4 Mountain Summits with Prominence of 1,500 meters or greater". Peaklist.org. मूल से 15 नवंबर 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 November 2011.