मुख्य मेनू खोलें

गुना लाइन पर मुंगावली तहसील से १४किलोमीटर दूर ग्राम मल्हारगढ़ में विशाल मंदिर व सर्वसुविधा युक्त धर्मशाला है।यहाँ स्वर्ण जड़ित वेदी पर मां जिनवाणी विराजमान हैं।यहाँ अभी तक कुल २५ से अधिक मेले भरा चुके हैं।यह संत तारण का समाधि स्थल है। यहाँ प्रति वर्ष हजारों श्रद्धालु आते हैं।यहाँ से कुछ ही दूर बेतबा में टापू स्थित हैं।

अनुक्रम

अतिशयसंपादित करें

  • यहाँ संत तारण को नदी में डुबाया तो तीन टापू बन गये।

मेला महोत्सवसंपादित करें

यहाँ प्रति वर्ष फाग फूलना मेला महोत्सव होता है।यहाँ लगभग २५ मेले भरा चुके हैं।यहाँ सागर वालों का,मल्लूसाव नागपुर का एवं चतरो सेठानी का मेला प्रसिद्ध है।

इसे भी देखेंसंपादित करें

संदर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें