मसरूर मंदिर (Masroor Temples) भारत के हिमाचल प्रदेश राज्य में ब्यास नदी की काँगड़ा घाटी में पत्थर काट कर बनाए गए हिन्दू मंदिरों का एक समूह है। यह 8वीं शताब्दी के आरम्भ में बनाए गए थे और धौलाधार पर्वतों की ओर मुख रख के खड़े हैं। यह उत्तर भारतीय नगर वास्तुशैली में बने हैं। यहाँ के कई मंदिर अतीत में आए भूकम्पों से हानिग्रस्त हुए थे, लेकिन अभी भी कई खड़ें हैं। इन मंदिरों को एक ही महान शिला से काटकर शिखरों के साथ तराशा गया था।[2][3]

मसरूर मंदिर
Masrur Temples
मसरूर के शिलाशिल्पित मंदिर
मसरूर के शिलाशिल्पित मंदिर
धर्म संबंधी जानकारी
सम्बद्धताहिन्दू धर्म
देवताशिव, विष्णु, देवी, अन्य
अवस्थिति जानकारी
अवस्थितिब्यास नदी घाटी (काँगड़ा घाटी)
ज़िलाकाँगड़ा ज़िला
राज्यहिमाचल प्रदेश
देश भारत
मसरूर मंदिर की हिमाचल प्रदेश के मानचित्र पर अवस्थिति
मसरूर मंदिर
हिमाचल प्रदेश के मानचित्र पर अवस्थिति
भौगोलिक निर्देशांक32°04′21.2″N 76°08′13.5″E / 32.072556°N 76.137083°E / 32.072556; 76.137083निर्देशांक: 32°04′21.2″N 76°08′13.5″E / 32.072556°N 76.137083°E / 32.072556; 76.137083
वास्तु विवरण
शैलीनगर
निर्माण पूर्ण8वीं शताब्दी[1]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Michael W. Meister (2006), Mountain Temples and Temple-Mountains: Masrur, Journal of the Society of Architectural Historians, Vol. 65, No. 1 (Mar., 2006), University of California Press, pp. 26- 49
  2. Mulk Raj Anand (1997). Splendours of Himachal Heritage. Abhinav Publications. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-7017-351-9.
  3. Khan, Nisar (2014). "Architecture of the Rock-Cut Temples of Masroor". Heritage Conservators, New Delhi. अभिगमन तिथि 5 October 2015.