मुआविया प्रथम ; Muawiyah I: (602-680 ईस्वी)रशीदुन ख़िलाफत में तीसरे ख़लीफा उस्मान बिन अफ्फान के भतीजे थे[1] ख़िलाफते राशिदा में ख़लीफा हज़रत उमर रज़ी० से हज़रत अली रज़ी० तक सीरिया के गवर्नर बने रहे। इन्होनें उमय्यद वंश या उमय्यद खिलाफत की स्थापना की थी। मुसलमानों का शिया सम्प्रदाय मुआविया को पथभ्रष्ट और मुहम्मद साहब के वंशजों से जंग करने के कारण मुआविया का विरोध करता है ! वहीं सूफी सम्प्रदाय मुआविया के प्रति के खुल कर तो कोई विरोध नहीं करता परन्तु उसके प्रति पूर्णतः उदासीन हैं ! मुआविया और उसके पुत्र यज़ीद का एतिहासिक अस्तित्व शिया सुन्नी विवाद का अंग है !

मुआविया प्रथम
Muawiyah I
caption
शासनावधि661 – 680
पूर्ववर्तीहज़रत हसन रज़ी०
उत्तरवर्तीयज़ीद प्रथम
जन्म602
निधन6 मई, 680
पूरा नाम
मुआविया इब्न अबी सुफीयान
राजवंशउमय्यद
पिताअबू सुफीयान इब्न हर्ब
माताहिंद बिन्त उत्बाह

सन्दर्भसंपादित करें

  1. The Umayyad Dynasty Archived जून 20, 2013 at the वेबैक मशीन.