मुख्य मेनू खोलें

मैंने प्यार किया

1989 की सूरज बड़जात्या की फ़िल्म

मैंने प्यार किया 1989 की सूरज बड़जात्या द्वारा निर्देशित हिन्दी भाषा की संगीतमय प्रेमकहानी फ़िल्म है। प्रमुख भूमिकाओं में सलमान खान और भाग्यश्री हैं। इसे राजश्री प्रोडक्शन्स द्वारा बनाया गया था। यह सूरज की निर्देशक के रूप में शुरुआत, सलमान की पहली प्रमुख भूमिका (पिछले वर्ष की बीवी हो तो ऐसी में सहायक भूमिका के बाद) और भाग्यश्री की फिल्म करियर की शुरुआत थी।

मैंने प्यार किया
मैंने प्यार किया.jpg
मैंने प्यार किया का पोस्टर
निर्देशक सूरज बड़जात्या
निर्माता ताराचंद बड़जात्या
अभिनेता सलमान ख़ान,
भाग्यश्री,
लक्ष्मीकांत बेर्डे,
आलोक नाथ,
मोहनीश बहल
संगीतकार रामलक्ष्मण
स्टूडियो राजश्री प्रोडक्शन्स
वितरक राजश्री प्रोडक्शन्स
प्रदर्शन तिथि(याँ) 1989
समय सीमा 192 मिनट
देश भारत
भाषा हिन्दी

यह 1989 वर्ष की शीर्ष कमाई करने वाली बॉलीवुड फिल्म थी और 1980 के दशक की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली भारतीय फिल्म थी। इस फिल्म का साउंडट्रैक एल्बम भी 1980 के दशक का सर्वश्रेष्ठ बिकने वाला बॉलीवुड संगीत एल्बम था। 35वें फिल्मफेयर पुरस्कार में, फिल्म ने सर्वश्रेष्ठ फिल्म सहित छह पुरस्कार जीते।

संक्षेपसंपादित करें

करन (आलोक नाथ) अपनी इकलौती बेटी सुमन (भाग्यश्री) के साथ ग्रामीण इलाके में रहता है। वह अपनी बेटी की शादी के लिए पैसे कमाने दुबई जाने की सोचता है। वह अपनी बेटी को अपने दोस्त किशन (राजीव वर्मा) के घर छोड़ देता है। सुमन और किशन के बेटे प्रेम (सलमान खान) की दोस्ती हो जाती है।

सुमन को प्रेम एक पार्टी में ले जाता है, जिसे सीमा (परवीन दस्तूर) द्वारा आयोजित किया गया है। वहाँ किशन के व्यापार के साथी रंजीत (अजीत वाच्छानी) का बेटा जीवन (मोहनीश बहल) सुमन और प्रेम के दोस्ती को गलत बोलता है। सुमन वहाँ से चले जाती है। उसके बाद दोनों को पता लगता है कि दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे हैं। कौशल्या (रीमा लागू) को उन दोनों के प्यार के बारे में पता चलता है और वो उसे बहू के रूप में मान भी लेती है, लेकिन किशन इससे खुश नहीं होता और सुमन को घर से जाने के लिए कहता है। इसी दौरान दुबई से लौट कर करन वहाँ आता है। उसे जब इस बात का पता चलता है तो उसका किशन से झगड़ा हो जाता है। इसके बाद वो सुमन को लेकर अपने गाँव लौट जाता है।

प्रेम को अलग होना ठीक नहीं लगता है और वो भी सुमन के गाँव चले जाता है। करन जो किशन के ऊपर क्रोधित रहता है, वो कहता है कि यदि वो खुद पैसे कमा कर दिखा सकता है तो ही वो उसकी शादी सुमन से कराएगा। इसके बाद प्रेम पास की खदान में ट्रक ड्राइवर के रूप में काम करता है और मजदूरी भी करता है।

महीने के अंत तक उसके बाद जरूरत के हिसाब से पैसे हो जाते हैं। जब वह करन के घर जाने लगता है तो बीच रास्ते में उसे जीवन और उसके गुंडे मिल जाते हैं और उसे मारने की कोशिश करते हैं। वो बच जाता है लेकिन उसका सारा पैसा भीग जाता है। करन उसके द्वारा भीगा हुआ पैसा लाने को बेकार बता देता है। क्योंकि भीगा हुआ पैसा कुछ काम का नहीं है। लेकिन प्रेम खुद को साबित करने का एक और मौका मांगता है। उसकी मेहनत से करन का दिल पिघल जाता है और वो दोनों की शादी के लिए मान जाता है। रंजीत को ऐसा लगता है कि जीवन ने प्रेम को मार दिया होगा। वो किशन के पास जा कर बोलता है कि करन ने प्रेम को मार दिया है। किशन जब करन के गाँव जाता है तो उसे पता चलता है कि प्रेम सही सलामत है। इसके बाद जीवन और रंजीत के गुंडे सुमन को ले जाते हैं लेकिन करन, किशन और प्रेम मिल कर रंजीत और बाकियों को हरा कर सुमन को बचा लेते हैं। इस घटना के बाद करन और किशन फिर से दोस्त बन जाते हैं व प्रेम और सुमन की शादी हो जाती है।

मुख्य कलाकारसंपादित करें

संगीतसंपादित करें

सभी रामलक्ष्मण द्वारा संगीतबद्ध।

मैंने प्यार किया के गीत
क्र॰शीर्षकगीतकारगायकअवधि
1."आते जाते हस्ते गाते"देव कोहलीएस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम, लता मंगेशकर3:29
2."कबूतर जा जा जा"असद भोपालीलता मंगेशकर, एस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम8:24
3."आजा शाम होने आई"देव कोहलीएस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम, लता मंगेशकर5:14
4."अंत्याक्षरी"(विभिन्न बॉलीवुड गाने के बोल)लता मंगेशकर, एस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम, उषा मंगेशकर, शैलेंद्र सिंह, कोरस9:08
5."दिल दीवाना" (महिला संस्करण)असद भोपालीलता मंगेशकर5:55
6."मेरे रंग में रंगने वाली"असद भोपालीएस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम6:46
7."दिल दीवाना" (पुरुष संस्करण)असद भोपालीएस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम5:22
8."मैंने प्यार किया"असद भोपालीएस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम, लता मंगेशकर6:55
9."कहे तोह से सजना"असद भोपालीशारदा सिन्हा5:54
10."दिल दीवाना" (डुएट)असद भोपालीएस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम, लता मंगेशकर1:03
11."आया मौसम दोस्ती का"असद भोपालीएस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम, लता मंगेशकर, उषा मंगेशकर, शैलेंद्र सिंह6:47
कुल अवधि:1:01:01

नामांकन और पुरस्कारसंपादित करें

पुरस्कार श्रेणी नामांकित व्यक्ति परिणाम
फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म राजश्री प्रोडक्शन्स जीत
सर्वश्रेष्ठ संगीतकार रामलक्ष्मण जीत
सर्वश्रेष्ठ गीतकार "दिल दीवाना" के लिये असद भोपाली जीत
सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक "दिल दीवाना" के लिये एस॰ पी॰ बालसुब्रमण्यम जीत
सर्वश्रेष्ठ पुरुष डेब्यू सलमान खान जीत
सर्वश्रेष्ठ महिला डेब्यू भाग्यश्री जीत
सर्वश्रेष्ठ निर्देशक सूरज बड़जात्या नामित
सर्वश्रेष्ठ अभिनेता सलमान खान नामित
सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री भाग्यश्री नामित
सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री रीमा लागू नामित
सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता लक्ष्मीकांत बेर्डे नामित
सर्वश्रेष्ठ गीतकार "आते जाते हस्ते गाते" के लिये देव कोहली नामित

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के जेठालाल के बारे में ये 5 बातें जानकर हैरान रह जाएंगे आप...जीते हैं राजाओं वाली जिंदगी". पत्रिका. 27 मई 2018. अभिगमन तिथि 28 मई 2018.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें