यूनुस (इस्लाम)

इस्लाम के पैगम्बर

यूनुस (इस्लाम) (अंग्रेज़ी:Jonah in Islam) क़ुरआन में वर्णित अरबी भाषा में नबी का नाम है। दसवें सूरा का नाम उन्हीं के नाम पर रखा गया है।

इस्लाम धर्म की महत्वपूर्ण पुस्तक क़िसासुल अंबिया और ऐतिहासिक पुस्तकों के अनुसार "हज़रत यूनुस"[1]का क़ुरआन में उनका नाम चार बार उल्लेख किया गया है। मछली के वाकिए की कथा उनसे मशहूर है।

क़ुरआन में वर्णनसंपादित करें

और ज़ुन्नून (मछलीवाले) पर भी दया दर्शाई। याद करो जबकि वह अत्यन्त क्रद्ध होकर चल दिया और समझा कि हम उसे तंगी में न डालेंगे। अन्त में उसनें अँधेरों में पुकारा, "तेरे सिवा कोई इष्ट-पूज्य नहीं, महिमावान है तू! निस्संदेह मैं दोषी हूँ।" (क़ुरआन 21:87)

तो अपने रब के आदेश हेतु धैर्य से काम लो और मछलीवाले (यूनुस अलै॰) की तरह न हो जाना, जबकि उसने पुकारा था इस दशा में कि वह ग़म में घुट रहा था। (68:48)

इसमाईल, अलयसअ, यूनुस और लूत को भी। इनमें से हर एक को हमने संसार के मुक़ाबले में श्रेष्ठता प्रदान की (6:86)

इस्लाम के पैगम्बर कुरान अनुसार
आदम इदरीस नुह हुद सालेह इब्राहीम लूत इस्माइल इसहाक याकूब यूसुफ़ अय्यूब  
آدم إدريس نوح هود صالح إبراهيم لوط إسماعيل إسحاق يعقوب يوسف أيوب
आदम (बाइबल) इनोच नोअह एबर शेलह अब्राहम लॉट इश्माएल आइजै़क जैकब जोसफ जॉब

शोएब मूसा हारुन जुल-किफ्ल दाऊद सुलेमान इलियास अल-यासा यूनुस ज़कारिया यहया ईसा मुहम्मद
شُعيب موسى هارون ذو الكفل داود سليمان إلياس إليسع يونس زكريا يحيى عيسى مُحمد
जेथ्रो मोजे़ज़ आरोन एजी़कल डैविड सोलोमन एलीजाह एलीशाह जोनाह जे़करिया जॉन ईशु मसीह पैराच्लीट
  वा  

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

इब्राहीमी धर्म

इस्लाम के पैग़म्बर

क़िसासुल अंबिया

सन्दर्भसंपादित करें

  1. ""हज़रत यूनुस"अलैहिस्सलाम क़ससुल अंबिया-पृष्ठ 271 से 274". https://archive.org/. |website= में बाहरी कड़ी (मदद)