ये दिल आशिक़ाना

2002 की कुक्कू कोहली की फ़िल्म

ये दिल आशिक़ाना 2002 में बनी हिन्दी भाषा की रूमानी एक्शन फ़िल्म है जिसका निर्देशन कुक्कू कोहली द्वारा किया गया है और अरुणा ईरानी द्वारा निर्माण किया गया है। इसमें करण नाथ और नवोदित अभिनेत्री जिविधा शर्मा प्रमुख भूमिकाओं में हैं।[1] फिल्म अपने प्रसिद्ध संगीत के कारण सफल रही थी।[2][3]

ये दिल आशिक़ाना
ये दिल आशिक़ाना.jpg
ये दिल आशिक़ाना का पोस्टर
निर्देशक कुक्कू कोहली
निर्माता अरुणा ईरानी
लेखक तनवीर ख़ान (संवाद)
अभिनेता करण नाथ,
जिविधा शर्मा
संगीतकार नदीम श्रवण
छायाकार बाबा आज़मी
संपादक संजय जैसवाल
प्रदर्शन तिथि(याँ) 18 जनवरी, 2002
देश भारत
भाषा हिन्दी

संक्षेपसंपादित करें

ये कहानी करन मल्होत्रा (करन नाथ) और पूजा (जीविधा शर्मा) की है, जो पुणे के एक ही कॉलेज में पढ़ाई करते हैं। दोनों को एक दूसरे से प्यार हो जाता है और उनके जीवन में हर चीज ठीक चलते रहता है, लेकिन एक दिन मुंबई में अपने भाई को बिना बताए करन से मिलने जाती है, पर वापसी के दौरान पूजा के विमान को आतंकवादी अपने काबू में कर लेते हैं।

पूजा का भाई, विजय वर्मा (रजत बेदी) उनकी विमान का अपहरण की मदद किए रहता है। विजय को ये पता नहीं होता है कि उसमें उसकी बहन भी है। जब उसे पता चलता है, तब वो कुछ नहीं कर पाता है। पर करन अपनी जान को जोखिम में डाल कर पूजा की जान बचाने के लिए वहाँ आ जाता है और उसके साथ साथ उन सभी यात्रियों को बचा लेता है। विजय को पता चलता है कि करन और पूजा एक दूसरे से प्यार करते हैं, पर जब उनकी शादी की बात होती है तो वो इस कारण इंकार कर देता है कि कभी न कभी आतंकवादी उसके साथ बदला जरूर लेंगे और इस चक्कर में उसकी बहन की जान भी जा सकती है।

पूजा को सुरक्षित रखने के लिए पहले तो करन उसके भाई की बात मान लेता है, पर बाद में पूजा के कहने पर वो दोनों घर से भाग जाते हैं। तभी उन दोनों को अपहरणकर्ता पकड़ लेते हैं और अपने अड्डे में ले जाते हैं। इसके बाद वे लोग भारत सरकार से करन और पूजा के बदले अशरफ-उल-हक़ को आजाद करने को कहते हैं। अंत में करन और उन आतंकियों के बीच लड़ाई होती है और करन उन सभी को मार देता है। इसके बाद करन और पूजा मिल जाते हैं।

मुख्य कलाकारसंपादित करें

संगीतसंपादित करें

ये दिल आशिक़ाना
नदीम श्रवण द्वारा
जारी जनवरी 2002
संगीत शैली फिल्म साउंडट्रैक
लेबल टिप्स
निर्माता नदीम श्रवण
नदीम श्रवण कालक्रम

हम हो गये आप के
(2001)
'''ये दिल आशिक़ाना'''
(2002)
हाँ... मैंने भी प्यार किया
(2002)

सभी गीत समीर द्वारा लिखित; सारा संगीत नदीम-श्रवण द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."अल्लाह अल्लाह तारीफ तेरी" (कव्वाली)साबरी बंधु, सोनू निगम, अलका याज्ञनिक, तौसीफ अख्तर7:48
2."ऐ मेरी नटखटी कॉलेज की"उदित नारायण5:49
3."धक चिन दाना ता दिन दिन"अनुराधा पौडवाल, कुमार सानु5:59
4."आई एम इन लव"कुमार सानु, अलका याज्ञनिक5:14
5."जब से दिल तुम्हें मिला है"सारिका कपूर5:33
6."जब से मैं तुझसे मिला हूँ"कुमार सानु5:33
7."उठा ले जाऊँगा तुझे मैं डोली में"कुमार सानु, अनुराधा पौडवाल4:59
8."ये दिल आशिक़ाना, ये दिल"अलका याज्ञनिक, कुमार सानु5:50
9."ये दिल आशिक़ाना, ये दिल" (रीमिक्स)शान, जिविधा3:27

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "अब कहां हैं 'ये दिल आशिकाना' के सितारे". अमर उजाला. 28 मार्च 2016. मूल से 5 नवंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 नवम्बर 2018.
  2. "FlashBack : एक हिट देकर बॉलीवुड से गायब हो गया था ये हीरो, फ्लॉप के डर से हुआ ये हाल". अमर उजाला. 14 अप्रैल 2017. मूल से 5 नवंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 नवम्बर 2018.
  3. "'ऐश्वर्या राय की बहन' बन बॉलीवुड में ली थी एंट्री, 1 ब्लॉकबस्टर देने के बाद अब ये काम कर रही हीरोइन". अमर उजाला. 9 जुलाई 2018. मूल से 5 नवंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 नवम्बर 2018.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें