राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन

भारत के राजनैतिक दलों का एक गठबन्धन है।
(राजग से अनुप्रेषित)

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन या राजग भारत में एक राजनीतिक गठबन्धन है। इसका नेतृत्व भारतीय जनता पार्टी करती है। इसके गठन के समय इसके १३ सदस्य थे।

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन
संक्षेपाक्षर राजग
दल अध्यक्ष अमित शाह
नेता लोकसभा नरेंद्र मोदी
(प्रधानमन्त्री)
नेता राज्यसभा पीयूष गोयल
(कपड़ा मंत्री)
गठन १९९८
लोकसभा मे सीटों की संख्या
332 / 543
राज्यसभा मे सीटों की संख्या
110 / 245
राज्य विधानसभा में सीटों की संख्या
1,806 / 4,036
भारत की राजनीति
राजनैतिक दल
चुनाव


शरद यादव को इसका संयोजक बनाया गया था, किन्तु उनकी दल ने गठबन्धन से सम्बन्ध विच्छेद कर लिया। इसके राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह हैं। इसके अलावा प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी लोकसभा में नेता हैं जबकि थावरचंद गहलोत राज्यसभा में नेता हैं। इसके नेता, नरेंद्र मोदी ने २६ मई २०१४ को भारत के प्रधानमन्त्री के रूप में शपथ ली। भारतीय आम चुनाव, २०१९ में, गठबन्धन ने आगे बढ़कर ४५.४३% के संयुक्त वोट शेयर के साथ अपनी ३५३ सीटों पर वृद्धि की।[1]

इतिहास संपादित करें

मई 1998 में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की घोषणा हुई थी जो उस समय गैर काँग्रेसी सरकार के गठन के निर्माण में पहला कदम था लेकिन एक वर्ष के भीतर ही ढह गया क्योंकि आल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम ने अपना समर्थन वापस ले लिया। इसे और विस्तृत करने के लिये कुछ नये दलों के साथ मिलकर 1999 का लोकसभा चुनाव जीतने का नये सिरे से प्रयास किया गया। इसके परिणाम बेहतर निकले और राजग को पूरे पाँच साल के लिये प्रधानमन्त्री वाजपेयी के तहत सत्ता संचालित करने का अवसर मिला। वाजपेयी ने अपना कार्यकाल बेहतर ढँग से पूरा किया। 2004 के लोकसभा चुनाव जीतने की उम्मीद के साथ यह गठबन्धन पुन: मैदान में उतरा लेकिन कांग्रेस पार्टी नीत गठबन्धन को अन्य गुट निरपेक्ष पार्टियों से समर्थन मिलने से इसे विपक्ष में बैठना पडा। हालांकि कांग्रेस और राजग की प्रमुख पार्टी भाजपा को लोक सभा में मिली सीटों की संख्या में कोई बहुत बड़ा अन्तर नहीं था लेकिन बहुमत का जुगाड़ करने में भाजपा असफल रही।

संरचना संपादित करें

भारत में राजनीतिक दलों की मूल प्रवृत्ति गठबन्धन बनाने की कम और उसे तोड़ने की ज्यादा रही है। इस प्रवृत्ति को देखते हुए राष्ट्रीय जनतान्त्रिक गठबन्धन एक कार्यकारी बोर्ड या पोलित ब्यूरो के रूप में एक औपचारिक संरचना नहीं है अपितु यह व्यक्तिगत रूप से कुछ दलों के नेताओं की महत्वाकाँक्षा को पूर्ण करने के लिये सीटों के उपचुनाव में साझा रणनीति बनाने के लिये एक समझौते जैसा लगता है। राष्ट्रहित के मुद्दों पर निर्णय लेने अथवा संसद में उन मुद्दों को उठाते समय दलों के बीच विभिन्न विचारधाराओं को देखते हुए कभी सहमति तो कभी असहमति जैसी कठिनाई आती है जिसके कारण सहयोगी दलों के बीच विभाजित मतदान के कई मामले भी देखने में आये हैं। इसके पहले संयोजक ज्योर्ज फ़र्नान्डिस के खराब स्वास्थ्य के कारण शरद यादव को इसका संयोजक नियुक्त किया गया था। परन्तु आगे चलकर वे भी इससे अलग हो गये।

अतीत और वर्तमान सदस्य संपादित करें

संसद में सीट संपादित करें

Members of the National Democratic Alliance
Party लोक सभा राज्य सभा दल की प्रतिष्ठा
1 भाजपा 300 95 National Party
2 शिवसेना (बागी)[2] 12 0 महाराष्ट्र
3 लोजपा 6 - बिहार
4 AD(S) 2 - उत्तर प्रदेश
5 NPP 1 1 मेघालय
6 RPI(A) - 1 महाराष्ट्र
7 AGP - 1 असम
8 PMK - 1 तमिलनाडु
9 TMC(M) - 1 तमिलनाडु
10 AJSU 1 - झारखण्ड
11 NDPP 1 - नगालैण्ड
12 MNF 1 1 मिज़ोरम
13 SKM 1 - सिक्किम
14 Independent 3 1 None
15 Nominated - 3 None
Total 333 118 भारत

इन्हें भी देखें संपादित करें

सन्दर्भ संपादित करें

  1. "Analysis: Highest-ever national vote share for the BJP".
  2. MumbaiSeptember 20, Kamlesh Damodar Sutar; September 20, 2022UPDATED:; Ist, 2022 21:26. "Shinde vs Thackeray: Supporters clash over poster at Shiv Sena office in Thane". India Today (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2022-09-21.सीएस1 रखरखाव: फालतू चिह्न (link)
  3. "STRENGTHWISE PARTY POSITION IN THE RAJYA SABHA". Rajya Sabha. 18 जुलाई 2018. मूल से 6 जून 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 मई 2020.