यह पृष्ठ गौतम बुद्ध लेख के सुधार पर चर्चा करने के लिए वार्ता पन्ना है। यदि आप अपने संदेश पर जल्दी सबका ध्यान चाहते हैं, तो यहाँ संदेश लिखने के बाद चौपाल पर भी सूचना छोड़ दें।

लेखन संबंधी नीतियाँ

बुद्ध के अवतार की अवधारणासंपादित करें

वैदिक धर्म के मानने वालों ने कई जगह बुद्ध को विष्णु का 12 वां अवतार बताया है जो की पूर्णतः गलत है।बुद्ध स्वयं अवतार की अवधारणा के विरुद्ध थे । इसका एकमात्र कारण है कि बौद्ध अपने आप को वैदिक धर्म से अलग मानते हुए वैदिक धर्म को नकारने लगे । ऐसे में एक साजिश के तहत वैदिक धर्म के पुरोधाओं ने बुद्ध को विष्णु का 12 वां अवतार बता दिया और बौद्ध धर्म को वैदिक धर्म का एक हिस्सा बनाने की चेष्टा की , इसके लिए उन्होंने अपने ही द्वारा रचित अनेकों ग्रंथों का हवाला दिया। (संदर्भ ?)

पृष्ठ "गौतम बुद्ध" पर वापस जाएँ।