"अहुरा मज़्दा" के अवतरणों में अंतर

484 बैट्स् जोड़े गए ,  8 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
[[File:Darius I the Great's inscription.jpg|thumb|240px|ईरान के बीसतुन शिलालेख में अहुर माज़्दा का कई बार वर्णन है]]
[[File:Taq-e Bostan - High-relief of Ardeshir II investiture.jpg|thumb|240px|ताक़-ए-बोस्तान की शिलाओं पर - बाएँ पर मित्र (देवता), दाएँ में अहुर माज़्दा और बीच में [[सासानी साम्राज्य|सासानी सम्राट]] शापूर द्वितीय राज्यभार ग्रहण करते हुए]]
'''अहुर मज़्दा''' [[अवस्ताई भाषा]] में प्राचीन ईरानी धर्म के एक देवता का नाम है जिन्हें [[पारसी धर्म]] के संस्थापक [[ज़रथुश्त्र]] ने अजन्मा और सर्वज्ञ [[परमेश्वर]] बताया था। इसके अलावा इनके लिए ओह्रमज़्द, होउरमज़्द, हुरमुज़, अरमज़्द और अज़्ज़न्दारा नाम भी प्रयोग किये जाते हैं। वे पारसी धर्म के सर्वोच्च देवता हैं और यस्न (पारसी पूजा विधि, जिसका [[संस्कृत]] [[सजातीय शब्द]] '[[यज्ञ]]' है) में इन्हें सर्वप्रथम और सर्वाधिक सम्बोधित किया जाता है। अहुर मज़्दा को प्रकाश और अच्छाई उनके ख़िलाफ़ शैतानी दाएवों (देवों) का अध्यक्ष है [[अंगिरा मैन्यु]]।