"संघनित्र (उष्मा स्थानान्तरण)" के अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश रहित
(117.199.144.218 (वार्ता) द्वारा किए बदलाव 2038020 को पूर्ववत करें wrong language)
{{आधार}}
[[चित्र:Lednička Zanussi ZRA 319 SW, celkový pohled na zadní část.JPG|फ्रिज की संघनन कुण्डली]]
'''संघनित्र''' (condenser) एक यांत्रिक युक्ति है जो [[गैस]] या [[वाष्प]] को ठण्डा करके [[द्रव]] में बदल देती है। संघनित्र कई जगह प्रयोग किये जाते हैं। [[उर्जा संयंत्र|उर्जा संयत्रों]] में इनका प्रयोग [[टर्बाइन]] से निकलने वाले [[भाप]] को [[संघनन|संघनित]] करने के लिये किया जाता है। [[शीतलन संयंत्रों]] (refrigeration plants) में [[अमोनिया]] एवं फ्लोरीनेटड हाइड्रोकार्बनों जैसे शीतलक [[वाष्प|वाष्पों]] को संघनित करने के काम आता है। [[पेट्रोलियम]] एवं अन्य [[रासायनिक उद्योग|रासायनिक उद्योगों]] में हाइड्रोकार्बनों एवं अन्य रसायनों के वाष्पों को संघनित करने के लिये काम में लिया जाता है।
 
* तल संघनित्र (सरफेस कन्डेंसर)
* सीधे सम्पर्क वाले संघनित्र (Direct contact condenser)
 
==इन्हें भी देखें==
*[[संधारित्र]] - जिसे अब भी कभी-कभी '''संघनित्र''' कह दिया जाता है, क्योंकि अंग्रेजी में कैपेसिटर को 'कन्डेन्सर" भी कहते हैं।
 
[[श्रेणी:प्रशीतन]]