वी गोपाल (पंजाबी: ਵੀ ਗੋਪਾਲ)[1] हिन्दी फ़िल्मों के एक हास्य अभिनेता थे। उनहोनें फ़िल्म "चम्बे दी काली" (1940) से अपने अभिनय सफर शुरूआत की थी, फिर 20 वर्ष के अंतराल के बाद "पासपोर्ट" (1961) से वापसी की। उनकी अटक-अटक के संवाद कहने की भिन्न शैली थी।

वी गोपाल
जन्म होशियारपुर, पंजाब, ब्रिटिश भारत
अन्य नाम गोपाल
व्यवसाय अभिनेता

व्यक्तिगत जीवनसंपादित करें

उनका जन्म होशियारपुर, पंजाब मे हुआ था।

प्रमुख फिल्मेंसंपादित करें

वर्ष फ़िल्म भूमिका
1961 पासपोर्ट जनार्दन
1964 हकीकत चतुरम
1965 गाइड होटल मैनेजर
1967 ज्वैलथीफ
1970 पवित्र पापी विवाह प्रबंधक
जॉनी मेरा नाम कैसिनो प्रबंधक
जीवन मृत्यु भीम सेन
सुहाना सफर गोपाल
हमजोली रिश्ता कराने वाला
1971 तेरे मेरे सपने कैमिस्ट
नया ज़माना पंडित
1972 आँखों आँखों में चतुरम गोवर्धन गिरधारी
विक्टोरिया नम्बर २०३ पागल
जंगल में मंगल कांस्टेबल बहादुर सिंह
शोर मि० मुरादाबादी
1973 लोफर हैड कांस्टेबल
हँसते ज़ख़्म ब्रह्मस्वरूप

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कडियाँसंपादित करें

इंटरनेट मूवी डेटाबेस पर वी गोपाल