हिमाचल प्रदेश में केवल एक ही नगर निगम ‘शिमला नगर निगम’ बना। यह नगर निगम कई सालों से लगातार कार्य कर रहा है। सर्वप्रथम पंजाब सरकार द्वारा 1876 में नगर बोर्ड शिमला का गठन किया गया था, उस समय बोर्ड में 19 सदस्य थे। इनमें से सात अधिकारी तथा 12 गैर अधिकार होते थे। बारह गैर अधिकारी सदस्यों में से नौ सदस्य चुनकर आते थे, जबकि तीन सदस्यों को सरकार द्वारा नामांकित किया जाता था। इसके बाद चार सदस्य पदेन सदस्य माने गए। यह चार सदस्य थे आयुक्त शिमला, कार्यकारी अभियंता शिमला, प्रांतीय मंडल कार्यकारी अभियंता शिमला, केंद्रीय मंडल तथा सिविल सर्जन शिमला 1950 के अधिनियम के अंतर्गत दिसंबर 1951 में शिमला में नगर सरकार की शुरुआत हुई। 1962 में सदस्यों की संख्या बढ़ा दी गई। उस समय तक नगर सरकार का स्वरूप पंजाब में संचालित होता था, लेकिन हिमाचल प्रदेश के पुनर्गठन के बाद 1968 में हिमाचल प्रदेश नगर पालिका अधिनियम लागू चालू किया गया।

शिमला नगर निगम
—  नगर निगम  —
Municipal corporation shimla.jpg
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य हिमाचल प्रदेश
महापौर संजय चौहान[1]
क्षेत्रफल
ऊँचाई (AMSL)

• २१३० मीटर
आधिकारिक जालस्थल: http://www.hpshimla.nic.in/

निर्देशांक: 31°06′40″N 77°09′14″E / 31.111°N 77.154°E / 31.111; 77.154

सन्दर्भसंपादित करें