श्रीनिवास कुमार सिन्हा

भारतीय सैन्य अधिकारी

परम विशिष्ट सेवा मेडल लेफ्टिनेन्ट जनरल (अवकाशप्राप्त) श्रीनिवास कुमार सिन्हा (1926 - 2016) भारतीय सैन्य अधिकारी थे। अपनी सेवानिवृत्ति के बाद उन्होंने असम, जम्मू और कश्मीर और अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल के रूप में कार्य किया। एक संक्षिप्त बीमारी के बाद एक अस्पताल में 17 नवंबर 2016 को उनका निधन हो गया।[1]

उनका जन्म बिहार के गया में हुआ था। वे वर्ष 1943 में सेना में शामिल हुए। जब पाकिस्तानी कबायलियों ने वर्ष 1947 में हमला किया तो जम्मू-कश्मीर में प्रवेश करने वाले भारतीय सैनिकों के पहले जत्थे में वह भी शामिल थे। १९८३ में जब इन्दिरा सरकार ने जब उनकी वरिष्ठता को नजरअंदाज कर उनकी जगह जनरल अरुण श्रीधर वैद्य को भारतीय सेना का प्रमुख नियुक्त किया तो उन्होंने सेना से इस्तीफा दे दिया था। वे वर्ष 1990 में नेपाल में भारत के राजदूत नियुक्त हुए। इन्होंने पांच पुस्तकों का लेखन किया जिसमें से ‘ए सोल्जर रिकाल्स’ नामक आत्मकथा इनकी प्रमुख पुस्तक है।[2]

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें