साल्मोनेला (Salmonella) प्रोटियोबैक्टीरिया संघ के गामाप्रोटियोबैक्टीरिया वर्ग के एंटेरोबैक्टीरियेसी कुल का एक वंश है। यह एक गतिशील, अंतर्बीजाणु न बनाने वाला, छड़ी-आकृति का एंटेरोबैक्टीरिया है। इसकी कोशिका 0.7 से 1.5 माइक्रोमीटर के व्यास की होती है और कशाभिकाओं से घिरी होती है। यह रसायनाहारी और विकल्पी अवायुजीव हैं। साल्मोनेला की केवल दो ज्ञात जातियाँ हैं - साल्मोनेला एंटेरिका (Salmonella enterica) और साल्मोनेला बोंगोरी (Salmonella bongori) - लेकिन छह उपजातियाँ और 2,500 से अधिक सीरोटाइप (सीरमप्ररूप) हैं। कुछ सीरोटाइप प्रदूषित आहार से मानवों व अन्य प्राणियों के जठरांत्र क्षेत्र में प्रवेश करके भोजन विषात्तन का कारण बन सकते हैं। साल्मोनेला बोंगोरी जाति केवल सरिसृपों जैसे बाह्यउष्मीय प्राणियों में मिलती है।[1][2]

साल्मोनेला
SalmonellaNIAID.jpg
साल्मोनेला
वैज्ञानिक वर्गीकरण
अधिजगत: बैकटीरिया (Bacteria)
संघ: प्रोटियोबैक्टीरिया (Proteobacteria)
वर्ग: गामाप्रोटियोबैक्टीरिया (Gammaproteobacteria)
गण: एंटेरोबैक्टीरियेलीस (Enterobacteriales)
कुल: एंटेरोबैक्टीरियेसी (Enterobacteriaceae)
वंश: साल्मोनेला (Salmonella)
लिनियेरेस, 1900
जातियाँ

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Fàbrega A, Vila J (April 2013). "Salmonella enterica serovar Typhimurium skills to succeed in the host: virulence and regulation". Clinical Microbiology Reviews. 26 (2): 308–41. PMC 3623383. PMID 23554419. डीओआइ:10.1128/CMR.00066-12.
  2. Tortora GA (2008). Microbiology: An Introduction] (9th संस्करण). Pearson. पपृ॰ 323–324. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 8131722325.