सुखोई टी-60एस (Sukhoi T-60S) एक नियोजित सोवियत सुपरसोनिक इंटरमीडिएट रेंज बमवर्षक विमान था, जो कभी ड्राइंग बोर्ड से आगे नहीं जा पाया। इस विमान की तकनीकी विशेषताओं के बारे में बहुत कम जानकारी उपलब्ध है जो सुखोई डिजाइन ब्यूरो द्वारा गुप्त रखी गई है। यह माना जाता था कि टी-60 एस में एक वैरिएबल ज्यामिति विंग, फ्लैट लेफ्टिंग फ्यूजेज और दो इंजन, जिनमें दो-आयामी थ्रस्ट वेक्टरिंग नोजल थीं। हथियारो में छह केएच-101 क्रूज मिसाइल को शामिल करना था। यह परियोजना पहली बार 1984 में सुखोई ने शुरू की थी लेकिन 1900 के दशक के शुरू में शीत युद्ध समाप्त होने के बाद इसे रद्द कर दिया गया था।[1]

सुखोई टी-60एस
Sukhoi T-60S
Sukhoi T-60 profile line drawing.jpg
प्रकार इंटरमीडिएट बमवर्षक
उत्पादक सुखोई
स्थिति रद्द परियोजना

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 9 अगस्त 2001 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 13 दिसंबर 2017.