गोइडेलिक भाषाएँ (Goidelic languages) या गेयलिक भाषाएँ (Gaelic languages) ब्रिटेनआयरलैण्ड में बोली जाने वाली द्वीपीय केल्टी भाषा-परिवार की दो में से एक उपशाखा का नाम है (दूसरी ब्रिटोनिक भाषाएँ हैं)। गोइडेलिक शाखा में आयरलैण्ड की आयरिश भाषा, मैन के द्वीप पर बोली जाने वाली मैन्क्स भाषा और स्कॉटलैण्ड में बोली जाने वाली स्कॉटिश गेयलिक भाषा शामिल हैं।[1] किसी ज़माने में आयरलैण्ड से मैन के द्वीप से होते हुए स्कॉटलैण्ड तक इन भाषाओं की उपभाषा सतति हुआ करती थी लेकिन अंग्रेज़ी के दबाव से यह विलुप्ति के समीप आ गई। कई प्रयासों के बाद इसकी तीन अस्तित्ववान भाषाएँ कुछ हद तक पुनर्जीवित हो पाई हैं।[2]

गोइडेलिक / गेयलिक
Goidelic / Gaelic
भौगोलिक
विस्तार:
आयरलैण्ड, स्कॉटलैण्ड, मैन का द्वीप
भाषा श्रेणीकरण: हिन्द-यूरोपीय
आदि-भाषा: पुरानी आयरिश
उपश्रेणियाँ:

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Trudgill, Peter (1984). Language in the British Isles. Cambridge University Press. p. 289. ISBN 978-0-521-28409-7.
  2. Robert D. Borsley; Ian G. Roberts (1996). The Syntax of the Celtic Languages: A Comparative Perspective. Cambridge University Press. p. 3. ISBN 978-0-521-48160-1.