पंद्रहवीं लोकसभा

(पंद्रहवी लोक सभा से अनुप्रेषित)

पंद्रहवीं लोक सभा के मंत्री मंडल सहित २२ मई, २००९ की शाम राष्ट्रपति भवन के अशोक हॉल में आयोजित एक समारोह में राष्ट्रपति प्रतिभा देवीसिंह पाटिल ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। जवाहर लाल नेहरू के बाद मनमोहन सिंह पहले ऐसे प्रधानमंत्री हैं, जो पाँच साल का पहला कार्यकाल पूरा करने के बाद फिर प्रधानमंत्री बने हैं। अप्रैल-मई २००९ में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव २००९ में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) को 250 से ज़्यादा सीटें मिली थीं। मनमोहन सिंह के बाद प्रणब मुखर्जी, शरद पवार, ए के एंटनी और पी चिदंबरम ने शपथ ली।

पंद्रहवीं लोक सभा
चौदहवीं लोकसभा सोलहवीं लोक सभा
संक्षिप्त विवरण
वैधानिक निकायभारतीय संसद
क्षेत्राधिकारभारत भारत
चुनावभारतीय आम चुनाव, २००९

प्रधानमंत्री कार्यालय ने पहले ही एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके बता दिया था कि प्रधानमंत्री के साथ 19 मंत्रियों को शपथ ग्रहण कराई जाएगी। जिन नामों की मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है उनमें प्रणब मुखर्जी, पी चिदंबरम, एके एंटनी, कपिल सिब्बल, कमलनाथ, शरद पवार, ममता बनर्जी के नाम प्रमुखता से शामिल हैं। उत्तर प्रदेश से कांग्रेस के 21 सांसद चुनकर आए हैं मगर उनमें से किसी का भी नाम इस सूची में नहीं है।

शेष मंत्रिमंडल के विस्तार के लिए 26 मई की तारीख बताई गई है। प्रधानमंत्री कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार अगले विस्तार में अन्य कैबिनेट मंत्रियों के साथ ही राज्य मंत्रियों (स्वतंत्र प्रभार) और अन्य राज्य मंत्रियों को शपथ दिलाई जाएगी।

अध्यक्ष संपादित करें

मीरा कुमार, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, सासाराम, बिहार

उपाध्यक्ष संपादित करें

करिया मुंडा, भारतीय जनता पार्टी, Khunti, झारखंड

सदन के नेता संपादित करें

प्रणव मुखर्जी, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, जंगीपुर, पश्चिम बंगाल

विपक्ष के नेता संपादित करें

सुषमा स्वराज, भारतीय जनता पार्टी, विदिशा, मध्य प्रदेश


मंत्रियों की सूची संपादित करें

२२ मई को शपथ लेने वाले मंत्रिमंडल के मंत्रियों की सूची इस प्रकार है:-

सदस्यों की दलवार संख्या संपादित करें

पार्टी संख्या
भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस 205 (कांग्रेस)
भारतीय जनता पार्टी 116
समाजवादी पार्टी 22
बहुजन समाज पार्टी 21
जनता दल (यूनाइटेड) 20
अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस 19
द्रविड़ मुनेत्र कझगम 18
भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) (सीपीआई (एम)) 16
बीजू जनता दल 14
शिवसेना 11
ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कझगम 9
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी 9
13 (Ind.) स्वतंत्र 8
तेलुगू देशम पार्टी 6
राष्ट्रीय लोक दल 5
भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) 4
राष्ट्रीय जनता दल 4
शिरोमणि अकाली दल 4
जम्मू - कश्मीर नेशनल सम्मेलन 3
जनता दल (सेकुलर) 3
ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक 2
झारखंड मुक्ति मोर्चा 2
मुस्लिम लीग केरल राज्य समिति 2
रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी (भारत) 2
तेलंगाना राष्ट्र समिति 2
ऑल इंडिया मजलिस - ए - इत्तेहादुल मुस्लिमीन 1
असम गण परिषद 1
असम यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट 1
बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट 1
बहुजन विकास Aaghadi 1
केरल कांग्रेस (मणि) 1
मरुमलार्ची द्रविड़ मुनेत्र कझगम 1
हरियाणा जनहित कांग्रेस (बीएल) 1
विदुथालाई Chiruthaigal Katch 1
सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट 1
Swabhimani एक पक्ष
नगालैंड पीपुल्स फ्रंट 1
वाईएसआर कांग्रेस पार्टी 1

[1]

इन्हें भी देखें संपादित करें


सन्दर्भ संपादित करें

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 26 दिसंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 25 दिसंबर 2013.

बाहरी कड़ियाँ संपादित करें