पेयजल उपलब्धता के आधार पर भारत के राज्यों की सूची

इस सूची में भारत के राज्य और केन्द्र-शासित प्रदेश पीने योग्य जल की उपलब्धता के आधार पर क्रमबद्ध हैं। यह सूची भारत सरकार द्वारा प्रकाशित 2011 भारत की जनगणना प्रतिवेदन से ली गई है।[1][2] इस सूची में क्रम-स्थिति प्रतिशत के आधार पर है।

इस सूची में पंजाब 97.6% घरों तक पीने योग्य जल की उपलब्धता के साथ सबसे ऊपर है जबकि बिहार 33.5% के साथ सबसे नीचे। राष्ट्रीय औसत 85.5% है।

क्रम-स्थिति राज्य % घरों में पीने योग्य जल की उपलब्धता (2011)
1 पंजाब 97.6
2 उत्तर प्रदेश 95.1
3 केरल 94.0
4 हरियाणा 93.8
5 हिमाचल प्रदेश 93.7
6 तमिल नाडु 92.5
7 उत्तराखण्ड 92.2
7 पश्चिम बंगाल 92.2
8 आन्ध्र प्रदेश 90.5
9 गुजरात 90.3
10 कर्णाटक 87.5
11 छत्तीसगढ़ 86.3
12 गोवा 85.7
** राष्ट्रीय औसत 85.5
13 सिक्किम 85.1
14 महाराष्ट्र 83.4
15 अरुणाचल प्रदेश 78.6
16 राजस्थान 78.1
17 मध्य प्रदेश 78.0
18 जम्मू और कश्मीर 76.8
19 उड़ीसा 75.3
20 असम 69.9
21 त्रिपुरा 67.5
22 मिज़ोरम 60.4
23 झारखण्ड 60.1
24 नागालैण्ड 53.8
25 मणिपुर 45.4
26 मेघालय 44.7
27 बिहार 29.5
संघ क्षेत्र चण्डीगढ़ 99.3
संघ क्षेत्र दमन और दीव 98.7
संघ क्षेत्र पौण्डिचेरी 97.8
संघ क्षेत्र दिल्ली 95.0
संघ क्षेत्र दादर और नागर हवेली 91.6
संघ क्षेत्र अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह 85.5
संघ क्षेत्र लक्षद्वीप 22.8

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Households access to safe drinking water". Government of India. 2011. अभिगमन तिथि 21 अप्रैल 2014.[मृत कड़ियाँ]
  2. "Access to safe drinking water in households in India" (PDF). Government of India. 2012–13. मूल (PDF) से 23 नवंबर 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 अप्रैल 2014.सीएस1 रखरखाव: तिथि प्रारूप (link)