मुख्य मेनू खोलें

प्यार का देवता 1991 में बनी हिन्दी भाषा की नाट्य फिल्म है। मिथुन चक्रवर्ती, माधुरी दीक्षित, निरूपा रॉय और मौसमी चटर्जी मुख्य भूमिकाओं में हैं।

प्यार का देवता
प्यार का देवता.jpg
प्यार का देवता का पोस्टर
निर्देशक के. बापय्या
निर्माता ललित कपूर
लेखक कादर ख़ान (संवाद)
अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती,
माधुरी दीक्षित,
निरूपा रॉय,
मौसमी चटर्जी,
कादर ख़ान
संगीतकार लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
प्रदर्शन तिथि(याँ) 11 जनवरी, 1991
देश भारत
भाषा हिन्दी

अनुक्रम

संक्षेपसंपादित करें

अपने माता-पिता की मौत के बाद, विजय (मिथुन चक्रवर्ती) अपने आप बहनों शारदा, सुजाता और संगीता की देखभाल करता है। जब तक वे घर की देखबाल करने लायक बड़ी ना हो जाए वो मैकेनिक के रूप में काम करता है। वयस्कता प्राप्त करने के बाद विजय ने शारदा (रूपा गांगुली) का इंस्पेक्टर अरुण (सुरेश ओबेरॉय) से विवाह किया; जबकि सुजाता (किशोरी शहाणे) का विवाह एडवोकेट गोपाल (राज किरन) से हुआ और संगीता अपने प्रेमी से शादी कर लेती है। बहनों अब विजय की शादी करना पसंद करती है और जब उन्हें पता चलता है कि वह राधा (माधुरी दीक्षित) से प्यार करता है, तो वे सभी बहुत खुश हुए। लेकिन अरुण ने अपनी बहन मोहिनी से बलात्कार के लिए विजय की गिरफ्तारी करते हुए उनकी खुशी को सदमे और अविश्वास से बदल दिया। जब उसे मुख्य न्यायाधीश सरस्वती मनोहर राय के सामने लाया जाता है, तो विजय अपने अपराध को स्वीकार करता है। जिससे एक सवाल उपजता है कि विजय ने अरुण की बहन पर ऐसा गंभीर अपराध को क्यों किया और उसके कार्यों के पीछे क्या उद्देश्य था।

मुख्य कलाकारसंपादित करें

संगीतसंपादित करें

सभी गीत आनंद बख्शी द्वारा लिखित; सारा संगीत लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."कुछ देर पहले कुछ भी ना था"अलका याज्ञिक, मोहम्मद अज़ीज़5:37
2."बहनें हँसती हैं तो हँसते हैं"अलका याज्ञिक, मोहम्मद अज़ीज़, कविता कृष्णमूर्ति5:45
3."जिंद तेरे नाम कर दी"लता मंगेशकर, मोहम्मद अज़ीज़6:44
4."बहनें हँसती हैं तो हँसते हैं"अलका याज्ञिक, मोहम्मद अज़ीज़, कविता कृष्णमूर्ति1:31
5."मैं नाजुक दिल शहजादी"कविता कृष्णमूर्ति5:01
6."मेरी दुकान पे आना मेरी जान"सुदेश भोंसले4:55

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें